येदियुरप्पा चौथी बार बने मुख्यमंत्री, ग्रहण की शपथ

0

कर्नाटक में जारी घमासान फ्लोर टेस्ट के बाद थम गया। फ्लोर टेस्ट में एचडी कुमारस्वामी फेल हो गए और कर्नाटक में कुमार स्वामी की सरकार गिर गई। इसके बाद कुमार स्वामी ने राज्यपाल को अपना इस्तीफ़ा सौंप दिया। कुमार स्वामी सरकार के गिरते ही बी.एस. येदियुरप्पा के मुख्यमंत्री बनने की राह आसान हो गई। बी.एस. येदियुरप्पा चौथी बार कर्नाटक का कार्यभार संभालेंगे (Yediyurappa Takes Oath)। वहीं कर्नाटक के राजभवन में शुक्रवार शाम तकरीबन साढ़े 6 बजे भाजपा अध्यक्ष बी.एस. येदियुरप्पा ने चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की।

विवादित टिप्पणी के लिए MP Azam Khan को बड़ी सजा

कर्नाटक के राज्यपाल वाजूभाई वाला ने भाजपा अध्यक्ष बी.एस. येदियुरप्पा को गोपनीयता की शपथ दिलाई। हालांकि अभी केवल बी.एस. येदियुरप्पा ने ही मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की है (Yediyurappa Takes Oath)। उनके साथ उनके मंत्रिमंडल के किसी अन्य सदस्य ने शपथ ग्रहण नहीं की है।

गौरतलब है कि जब कर्नाटक की सत्ता में जेडीएस-कांग्रेस के गठबंधन से बनी कुमार स्वामी सरकार थी तब बी.एस. येदियुरप्पा विधानसभा में विपक्ष के नेता थे। इस शपथ ग्रहण समारोह से एक दिन पहले ही यानी गुरुवार को कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष ने बागी निर्दलीय विधायकों के साथ ही दो कांग्रेस विधायकों को अयोग्य करार दिया था।

उत्तर प्रदेश में दो बड़े हादसों में प्रसिद्ध संत रामाज्ञा समेत कई लोगों की मौत

वहीं विधानसभा अध्यक्ष ने यह भी कहा कि बाकी के बागी विधायकों पर भी वे जल्द ही अपना फैसला सुनाएंगे। विधायकों के बागी होने की वजह से ही कुमार स्वामी सरकार गिरी है और भाजपा को सत्ता में काबिज होने का एक और मौका मिला है। बागी विधायकों की वजह से ही अब भाजपा सरकार के गठन में किसी भी तरह की कोई देरी नहीं करना चाहती। चौथी बार मुख्यमंत्री बनने जा रहे येदियुरप्पा ने एक ट्वीट कर लिखा, “पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा के निर्देश का पालन करते हुए मैं कर्नाटक के महामहिम राज्यपाल से मुलाक़ात करके सरकार बनाने का दावा पेश कर रहा हूं।”

स्कूल में पौधरोपण के दौरान निकला अजगर, बाल-बाल बचे सभी

Share.