आखिर क्यों भाजपा नेत्री ने भाजपा विधायक के घर खुद को लगा ली आग

0

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले से भारतीय जनता पार्टी की नेत्री के आत्मदाह के प्रयास का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि भाजपा महिला नेता ने अपनी ही पार्टी के विधायक बृजेश सिंह के आवास पर आत्मदाह करने की कोशिश की। हालांकि आत्मदाह से पहले उनके प्रयास को नाकामयाब कर दिया गया। आत्मदाह के प्रयास में सफल न होने पर नेत्री ने मिटटी का तेल (केरोसिन) पी लिया जिससे उनकी हालत बिगड़ गई। महिला नेता को तत्काल ही देवबंद चिकित्सालय में दाखिल किया गया जहां से उन्हें जिला अस्पताल रेफर किया गया।

गौरतलब है कि आत्मदाह का प्रयास करने वाली नेत्री का नाम शशि त्यागी है और वे जिला पंचायत सदस्य है। शशि के परिजनों का कहना है कि शशि अपनी ही पार्टी के विधायक कुंवर बृजेश सिंह के उत्पीड़न से बेहद परेशान थी। इसी वजह से उसने ये कदम उठाया है। परिजनों का कहना है कि उन पर और उनके रिश्तेदारों पर दर्ज किए गए मुकदमों में विधायक कुंवर बृजेश सिंह द्वारा सिफारिश की गई है।

वहीं मिली जानकारी के अनुसार विधयक बृजेश के घर आत्मदाह करने की चेतावनी शशि त्यागी द्वारा एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर दी गई थी। इसके बाद शशि त्यागी शनिवार सुबह देवबंद विधायक बृजेश सिंह के घर पहुंची और अपने ऊपर केरोसिन डाल लिया। लेकिन पहले से अलर्ट पुलिस और भाजपा नेताओं ने उनसे कैरोसिन का केन छीन लिया और उनके प्रयास को विफल कर दिया।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि जब शशि आत्मदाह में सफल नहीं हुई तो उन्होंने केरोसिन पी लिया। शशि त्यागी द्वारा केरोसिन पिए जाने की पुष्टि देवबंद चिकित्सक प्रभारी डॉक्टर इंद्राज ने भी की है। इससे एक दिन पहले शशि ने एक प्रेस कांग्रेस आयोजित कर विधायक पर गंभीर आरोप लगाए थे। विधायक पर आरोप लगाते हुए शशि ने कहा कि वे उनके परिवार और रिश्तेदारों को फर्जी मुकदमों में फंसाने की साजिश कर रहे हैं। वे विधायक से बेहद परेशान हो चुकी हैं और उनकी कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इस वजह से वे आत्महत्या करने के लिए मजबूर हैं। वहीं इस बारे में विधायक बृजेश का कहना है कि शशि के पिता पर उन्ही के गांव के एक व्यक्ति द्वारा मुकदमा दर्ज किया गया था जिसका उनके साथ कोई लेना-देना नहीं है। वहीं दूसरा मुकदमा शशि के साथ छेड़खानी का है। इस मुक़दमे में मैं किसी भी तरह से कुछ भी नहीं कर सकता।

Prabhat Jain

Share.