website counter widget

हरियाणा में शराबबंदी की शुरुआत

0

हरियाणा के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) द्वारा नवगठित विधानसभा के पहले सत्र के दौरान सदन में कई घोषणाएं की गई। इन घोषणाओं में राज्य सरकार ने हरियाणा के सभी गावों में शराब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की घोषणा की। वहीं राज्य सरकार ने इस दिशा में कार्य करना शुरू कर दिया है। इस बात की जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने कहा कि सदन में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने घोषणा करते हुए हरियाणा में शराब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाए जाने की बात कही। उनकी इस घोषणा को अमल में लाने के लिए हरियाणा पंचायती राज अधिनियम, 1994 की धारा 31 की उपधारा 1 व 2 में संशोधन किए जाने का प्रस्ताव केंद्र सरकार को भेज दिया गया है। फिलहाल यह प्रस्ताव सरकार के पास विचाराधीन है।

जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि आबकारी एवं कराधान आयुक्त के कार्यालय में उपधारा 1 के तहत पारित प्रस्ताव प्राप्त होने की अवधि को 31 अक्टूबर से बढाकर 15 जनवरी करने के लिए धारा 31 की उपधारा 2 में भी संशोधन का प्रस्ताव है। विकास एवं पंचायत विभाग द्वारा संशोधन का कार्य किया जाएगा। उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि धारा 31 के प्रावधानों के तहत केवल उसी ग्राम पंचायत के स्थानीय क्षेत्र में शराब बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जा सकता है, जहां 1 अप्रैल से लेकर 30 सितंबर तक की छ: माही अवधि के दौरान वहां के पंचों द्वारा बहुमत के साथ इस प्रस्ताव को पारित किया जाए।

इससे पहले सदन में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) ने शराब बिक्री पर प्रतिबंध लगाने वाले प्रस्ताव को पारित करने की समयावधि को 30 सितंबर से बढाकर 31 दिसंबर करने का ऐलान किया था। इसके अलावा उन्होंने शराबबंदी की इस प्रक्रिया में भागीदारी बढाए जाने के लिए पंचो के बहुमत की जगह ग्राम सभा के बहुमत से इसे पास किए जाने की बात कही थी। अब हाल ही में की गई घोषणा के बाद से हरियाणा के गांवों में शराब की बिक्री पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाए जाने के प्रस्ताव को पारित किए जाने की कवायद तेज हो गई है। जल्द ही हरियाणा में शराब की बिक्री पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.