website counter widget

एक साथ 45 रिश्वतखोर पुलिसवालों की छुट्टी

0

देशभर में भ्रष्टाचारियों और रिश्वतखोरों पर कड़ी कार्रवाई की जा रही है। इसी कड़ी में बिहार राज्य के 1 या 2 नहीं बल्कि पूरे 45 पुलिसकर्मियों को रिश्वतखोरी के आरोप में निलंबित कर दिया गया। जी हां बिहार में ससपेंड किए गए 45 पुलिसकर्मियों में कई दरोगा और एएसआई (ASI) भी शामिल हैं। मिली जानकारी के अनुसार इन पुलिसकर्मियों ने राज्य के सबसे पर्व माने जाने वाले छठ पूजा के दौरान रिश्वतखोरी का कारनामा किया है। छठ पूजा बिहार राज्य का सबसे बड़ा पर्व माना जाता है। इस दौरान सभी लोग घाटों पर स्नान करने और पूजा करने जाते हैं। घाटों पर बेहद कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की जाती है।

पटना ट्रैफिक पुलिस के एसपी डी अमरकेश ने अपना बयान जारी करते हुए कहा कि रिश्वतखोर सभी 45 पुलिसकर्मियों को सोमवार के दिन तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि छठ पूजा के दिन भारी वाहनों के प्रवेश पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया गया था। लेकिन इन पुलिसकर्मियों ने इस आदेश को अनदेखा करते हुए पूर्ण प्रतिबंध के बावजूद 150 ट्रकों को रात के समय महात्मा गांधी पुल से गुजारा। इन सभी 45 पुलिसकर्मियों पर आरोप है कि उन्होंने रिश्वत लेकर डेढ़ सौ ट्रकों को इस पुल से गुजरने की इजाजत दे दी।

ट्रैफिक एसपी अमरकेश की जानकारी के मुताबिक़ इन सभी 45 पुलिसकर्मियों को अगमकुआं पुलिस स्टेशन के तहत तैनात किया गया था। ये सभी ब्रिज से गुजरने वाले ट्रैफिक की निगरानी कर रहे थे। वहीं ट्रैफिक एसपी अमरकेश के बयान के आधार पर सभी आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की भी सिफारिश की गई है। वहीं अभी आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ डिपार्टमेंटल कार्रवाई करने की भी तैयारी हो चुकी है। फिलहाल इस मामले में अभी जांच की जा रही है।

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.