200 पत्रकारों ने खोला मोर्चा

0

तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित को एक महिला पत्रकार का गाल थपथपाना महंगा पड़ गया| राज्यपाल की हरकत के बाद महिला पत्रकार ने कहा कि घटना के बाद उसने कई बार अपना मुंह धोया, लेकिन वे इस बात को भुला नहीं पा रही हैं| तमिलनाडु के करीब 200 पत्रकार गवर्नर बनवारीलाल पुरोहित के खिलाफ धरने पर बैठ गए हैं|  

पत्रकारों की मांग थी कि राज्यपाल पुरोहित महिला से माफ़ी मांगें और यह सुनिश्चित करें कि भविष्य में कभी भी पत्रकारों के अधिकारों का उल्लंघन नहीं किया जाएगा| इस पर राज्यपाल ने महिला पत्रकार से पत्र लिखकर माफी मांगी| पत्र में उन्होंने कहा, “प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान आपने अच्‍छा सवाल किया, जिसकी वजह से शाबासी के तौर पर मैंने आपको पोती के तौर पर समझा और गाल पर हल्‍की सी थपकी दी थी, लेकिन यदि आपको यह बुरा लगा तो मैं उसके लिए माफी चाहता हूं|”

पत्रकारों ने याचिका में लिखा था, “आपके द्वारा बुलाई गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में वह पत्रकार शिरकत कर रही थी और अपनी ड्यूटी निभा रही थी| आपने जो किया, उससे हम इरादों पर सवाल नहीं करना चाहते हैं, पर यह आपको सोचना चाहिए कि किस प्रकार का व्यवहार किया जाए| खासतौर पर जब आपने प्रेस कॉन्फ्रेंस इस मुद्दे पर बुलाई थी, जिसमें एक प्रोफेसर पर आरोप है कि वह अपनी छात्राओं का यौन उत्पीड़न करता है|”

Share.