website counter widget

हैदराबाद के बाल अस्पताल में मासूम आग की लपटों के हवाले

0

आज का दिन हैदराबाद और इंदौर के लिए हादसों का दिन साबित हुआ है। दरअसल आज तड़के हैदराबाद के एक चाइल्ड हॉस्पिटल में आग लग गई। इस आग की वजह से एक तीन माह के शिशु की मौत हो गई जबकि चार अन्य बच्चे घायल हो गए। वहीं मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में भीषण आग लग जाने से 4 मंजिला होटल जलकर ख़ाक हो गई। इन दोनों आग की घटनाओं में जान-माल का भारी नुकसान हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार आग हैदराबाद के एल बी नगर इलाके में स्थित एक निजी चाइल्ड हॉस्पिटल में लगी थी।

एल बी नगर पुलिस थाने के निरीक्षक वी अशोक रेड्डी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार हॉस्पिटल के नवजात गहन चिकित्सा कक्ष (NICU) में आग गई। यह आग देर रात तकरीबन 2 बजकर 55 मिनट पर लगी। एनआईसीयू में आग लग जाने की वजह से एक बच्चे की मौत हो गई, वहीं 4 अन्य बच्चे इस हादसे में घायल हो गए। घायल हुए शिशुओं को तत्काल ही उनके अभिभावकों और पुलिस द्वारा दूसरे हॉस्पिटल पहुंचाया गया जहां उनकी हालत ठीक बताई जा रही है। पुलिस के अनुसार प्राथमिक जांच में आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। वहीं जिस वक्त हॉस्पिटल में आग लगी उस समय हॉस्पिटल में 42 शिशुओं का इलाज किया जा रहा था। इनमें से 5 बच्चों को नवजात गहन चिकित्सा कक्ष (NICU) में रखा गया था।

सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाया। इस बीच घायल शिशुओं के परिजन और कुछ लोगों ने हॉस्पिटल के बाहर जमकर हंगामा और विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। एल बी नगर पुलिस थाने के निरीक्षक वी अशोक रेड्डी ने भारतीय दंड विधान की धारा 304ए (लापरवाही के कारण मौत) के तहत हॉस्पिटल पर केस दर्ज कर जांच के आदेश दिए हैं। वहीं इंदौर के विजयनगर स्थित एक 4 मंजिला होटल में भीषण आग लग जाने से पूरी होटल जलकर ख़ाक हो गई। फिलहाल होटल गोल्डन गेट में लगी भीषण आग में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है। लेकिन इस आग से पूरी होटल जलकर ख़ाक हो गई और भारी नुकसान हुआ। दमकल कर्मियों को आग पर काबू पाने के लिए बेहद कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। फिलहाल आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है।

Prabhat Jain

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.