शौर्ययात्रा के दौरान पथराव, धारा 144 लागू

0

जहां एक ओर देशभर में ईद और महाराणा प्रताप जयंती एक साथ मनाई जा रही है, वहीं मध्यप्रदेश में इस दौरान सांप्रदायिक हिंसा देखने को मिली| मध्यप्रदेश के शाजापुर में महाराणा प्रताप जयंती पर निकले जुलूस में उपद्रवियों द्वारा पत्थर फेंके जाने के बाद उपद्रव फैल गया| शहर के नई सड़क इलाके में दो समुदाय आमने-सामने आ गए| इसके बाद क्षेत्र में जमकर पत्थरबाजी हुई| देखते ही देखते विवाद ने हिंसक रूप ले लिया और घटना में कुछ लोग घायल हो गए| राजपूत समाज के लोगों ने एक वर्ग विशेष पर जुलूस के दौरान माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया|

शाजापुर में शनिवार को महाराणा प्रताप जयंती के अवसर पर क्षत्रिय समाज ने शौर्य यात्रा का आयोजन किया था। जुलूस के स्वागत के लिए कुछ जगह पर मंच बनाए गए थे। इस दौरान नई सड़क के मनिहारवाड़ी क्षेत्र में मंदिर के पास बने मंच से जब जुलूस का स्वागत किया जा रहा था, तभी कुछ उपद्रवियों ने जुलूस पर पत्थर फेंक दिए। पत्थर फेंकने के बाद यहां अफरा-तफरी मच गई। क्षेत्र में करीब 1 घंटे से ज्यादा समय तक पत्थरबाजी देखने को मिली|

बताया जा रहा है कि उपद्रवियों ने कई स्थानों पर तोड़फोड़ भी की| शहर में कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया, कई ट्रकों में आग लगने की भी ख़बरें हैं| घटना की जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में पुलिस बल हालात पर काबू पाने के लिए पहुंचा|

फ़िलहाल स्थिति सामान्य

शाजापुर में बनी तनाव की स्थिति के बीच पुलिस ने व्यवस्था संभालते हुए तनाव को कम करने का काम किया है| शहर में फिलहाल स्थिति शांतिपूर्ण और पुलिस के नियंत्रण में है। आईजी उज्जैन झोन राकेश गुप्ता के अनुसार, किसी प्रकार की कोई जनहानि नहीं हुई। एसपी और डीआईजी बल के साथ मौके पर हैं। शहर में पुलिस लगातार पेट्रोलिंग कर रही है। पुलिस के मुताबिक, शहर में फ़िलहाल धारा 144 लागू है, जिसमें स्थिति पूर्ण नियंत्रण में आने के बाद ढील दी जाएगी|

Share.