सुप्रीम कोर्ट का आदेश : सुरक्षा में चूक हुई तो एसएसपी जिम्मेदार

0

हलाला और तीन तलाक को लेकर अपने हक़ की लड़ाई लड़ रहीं शबनम पर हाल ही में तेज़ाब से हमला किया गया था। यह घटना उत्तरप्रदेश के बुलंदशहर में हुई थी। एसिड अटैक की शिकार हुईं शबनम की याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें सुरक्षा देने के लिए कहा है। एसिड हमले का शिकार हो चुकी शबनम की सुरक्षा की जिम्मेदारी कोर्ट ने पुलिस को सौंपी है| साथ ही ये साफ़ निर्देश दिए हैं कि यदि शबनम की सुरक्षा में कोई चूक होती है तो इसकी सारी ज़िम्मेदारी एसएसपी की रहेगी। सुप्रीम कोर्ट ने ये आदेश बेहद सख्त लहजे में दिया है।

बुलंदशहर के एसएसपी के कंधों पर सुरक्षा की जिम्मेदारी आते ही पुलिस अपने काम में मुस्तैदी से जुट गई है। एसिड अटैक को लेकर सुप्रीम कोर्ट भी सख्ती से पेश आती है। पिछली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और उत्तर प्रदेश सरकार से शबनम पर एसिड अटैक को लेकर जवाब देने को कहा था।

शबनम द्वारा सुप्रीम कोर्ट में अपनी जान की सुरक्षा के लिए याचिका दायर की गई थी। याचिका में मांग की है कि उसकी जान को खतरा है, ऐसे में उसे सुरक्षा दी जाए। साथ ही एसिड अटैक के बाद उन्हें बेहतर चिकित्सा सुविधाएं भी मुहैया कराई जाए। हलाला और तीन तलाक को लेकर लड़ रहीं शबनम पर  गुरुवार को तेजाब फेंका गया था। आरोप है कि शबनम के देवर ने उन पर यह एसिड अटैक किया था।

गौरतलब है कि दिल्ली के ओखला की रहने वालीं शबनम की शादी अगौता के जौलीगढ़ में मुजम्मिल से हुई थीं, लेकिन शादी के कुछ समय बाद ही उनके  देवर से निकाह कर हलाला करने को कहा गया। शबनम ने इसी हलाला निकाह के विरुद्ध सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी।

महिला खिलाड़ी पर एसिड अटैक

Share.