VIDEO : आतंकी हमले की रौंगटे खड़े कर देने वाली कहानी

0

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में मंगलवार को हुए आतंकी हमले में दूरदर्शन की टीम के एक पत्रकार की मौत हो गई थी| नक्सलियों के हमले में पत्रकार के साथ दो जवान भी शहीद हो गए थे| वहीं पत्रकारों की टीम में शामिल अन्य लोगों ने गड्ढे में छिपकर जान बचाई| जब वहां गोलियों की बरसात हो रही थी, उसी दौरान एक असिस्टेंट कैमरामैन ने एक वीडियो बनाया और इसमें आपबीती बताई| इस वीडियो को देखकर आपके भी रौंगटे खड़े हो जाएंगे|

जानकारी के अनुसार, मुठभेड़ के बीच एक असिस्टेंट कैमरामैन ने अपनी मां के नाम एक वीडियो संदेश जारी किया| उसने वीडियो में अपनी मां को कहा कि आतंकी हमला हो गया है| मम्मी मैं आपसे बहुत प्यार करता हूं, हो सकता है, मैं हमले में मारा जाउं| वीडियो में बीच-बीच में गाली-गलौज और गोलियों की आवाज़ भी सुनाई दे रही थी| मौत को सामने खड़ा देखकर भी कैमरामैन ने हिम्मत नहीं हारी और मां के नाम अपना संदेश रिकॉर्ड किया|

दरअसल, दंतेवाड़ा के अरनपुर थाना क्षेत्र में पत्रकारों की टीम चुनाव का कवरेज करने पहुंची थी, तभी वहां आतंकी हमला हो गया| इस हमले के कारण 2 जवान शहीद हो गए और डीडी न्यूज के एक कैमरामैन अच्युतानंद साहू की भी मौत हो गई| वहां किसी को बचने की उम्मीद नहीं थी, सभी ने सोच लिया था कि अब मरने वाले हैं| अपने सामने मौत खड़ा देख असिस्टेंट कैमरामैन मोरमुकुट शर्मा ने अपनी मां के नाम एक वीडियो संदेश रिकॉर्ड किया|

वीडियो में कैमरामैन कहता है, “आतंकी हमला हो गया है, हम दंतेवाड़ा में आए थे इलेक्शन कवरेज पर, एक रास्ते से जा रहे थे, आर्मी हमारे साथ थी| अचानक नक्सलियों ने घेर लिया| मम्मी यदि मैं जीवित बचा तो गनीमत है| मम्मी मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं, हो सकता है मैं हमले में मारा जाऊं| परिस्थिति सही नहीं है, पता नहीं क्यों मौत को सामने देखते हुए डर नहीं लग रहा है, बचना मुश्किल है यहां पर, 6-7 जवान हैं साथ में… चारों तरफ से घेर लिए हैं|”

40 से 45 मिनट के नक्सली आतंक के बाद सुरक्षाबलों की दूसरी टुकड़ी वहां पहुचीं तब जाकर पत्रकारों और बचे हुए जवानों ने राहत की सांस ली|

Share.