शिवराज की बदले की आग

2

13 सालों तक सत्ता सुख का आनंद लेने वाले पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का रूख अब बदलने लगा है। जिस कर्ज़ माफी ने उनसे सिंहासन छीन लिया, अब इस पर वे कांग्रेस को घेर रहे हैं। पूर्व सीएम ने कहा कि 31 मार्च 2018 तक का टाइम बैरियर लगाकर छन्नी लगाकर आधी-अधूरी कर्ज़ माफी की घोषणा मेरे प्रदेश के किसान भाइयों-बहनों के साथ घोर अन्याय है। कांग्रेस को ऐसे छलावे से दूर रहना चाहिए, लेकिन यह वे ठीक से जान लें कि मैं सोया नहीं हूं, मैं जाग रहा हूं और मेरी पैनी नज़रें उन पर हैं।

पूर्व सीएम का यह ट्वीट सरकार के उस फैसले पर आया है, जिसमें कहा गया कि सरकार 31 मार्च 2018 तक कार्ज़ माफ करेगी। हालांकि अब ख़बर है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यह बंदिश हटा दी। कमलनाथ ने सीएम की गद्दी पर बैठते ही सबसे पहले किसान कर्ज़ माफी की फाइल पर हस्ताक्षर किए थे। राज्य सरकार के इस फैसले के बाद देश के हज़ारों किसानों को लाभ मिलेगा और उनका कर्ज़ माफ होगा।

विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रदेश की जनता से वादा किया था कि कांग्रेस पार्टी सत्ता में आती है तो 10 दिन के अंदर किसानों का कर्ज़ माफ कर दिया जाएगा। इसके बाद चुनाव में कांग्रेस को जीत मिली। मध्यप्रदेश के साथ छत्तीसगढ़, राजस्थान और असम सरकार ने भी किसानों का कर्ज़ माफ कर दिया है।

Video : तारीफ-ए-काबिल ‘मामा’

सीएम कमलनाथ ने किया एक और वादा पूरा

सीएम कमलनाथ ने दिया दिग्विजय को तोहफा

Share.