शीला दीक्षित ने की ‘आप’ की तौहीन

0

”अच्‍छा हुआ कि AAP से गठबंधन नहीं किया और जनता की मंशा पता चल गई” यह कहना है दिल्‍ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्‍यक्ष और दिल्‍ली की पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित (sheila dikshit) का| लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) में दिल्‍ली की सातों सीटों पर मिली हार के बाद दिल्‍ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्‍यक्ष और दिल्‍ली की पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा कि इन चुनावों से दिल्‍ली में कांग्रेस की स्थिति साफ हो गई है|

शीला (sheila dikshit)  ने कहा कि कांग्रेस दिल्‍ली में पांच सीटों पर दूसरे नंबर पर रही है| इसने आम आदमी पार्टी को भी पछाड़ दिया है| ऐसे में अच्‍छा हुआ कि AAP से गठबंधन नहीं किया|

BJP में शामिल होने Delhi पहुंचे TMC विधायक – पार्षद

शीला दीक्षित (sheila dikshit)  ने कहा कि दिल्‍ली की जनता ने कांग्रेस (Delhi Congress) को भरपूर वोट देने के साथ ही खूब प्‍यार भी दिया है, जिसका असर आगामी विधानसभा चुनाव में देखने को मिलेगा| हालांकि, सभी सीटों पर हार की बात करें तो मोदी लहर आई थी जो सब कुछ बहाकर ले गई| फिर भी दिल्‍ली में कांग्रेस को मिले वोटों से न हार ही कही जा सकती है और न ही जीत| थोड़ी और मेहनत की जाती तो नतीजे कांग्रेस के पक्ष में होते|

Vinayak Damodar Savarkar को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी

शीला (sheila dikshit) का कहना है कि उनका अगला लक्ष्‍य दिल्‍ली विधानसभा चुनाव है. इसके लिए अभी कोई रणनीति तैयार नहीं की गई है| हालांकि, जल्‍द ही इस संबंध में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की जाएगी| लोकसभा चुनावों से यह तो स्‍पष्‍ट हो गया है कि जनता का भरोसा आम आदमी पार्टी से उठ चुका है और जनता कांग्रेस की तरफ फिर से मुड़ रही है| वहीं, उत्‍तर-पूर्व दिल्‍ली से मिली हार पर दीक्षित ने कहा कि उन्‍हें जनता ने चार लाख से ज्‍यादा वोट दिए|

कांग्रेस की वरिष्‍ठ नेता ने कहा कि हार की समीक्षा की जाएगी| बता दें कि चुनाव से पहले दिल्ली में कांग्रेस और आप के एक साथ चुनाव लड़ने की खबर थी और आप इसे लेकर लगातार प्रयास कर रही थी जिसे कांग्रेस ने ठुकरा दिया था |

Rajinikanth का मोदी को नमन और राहुल को दी नसीहत

Share.