शरद पवार ने की RSS की तारीफ

0

लोकसभा चुनावों (loksabha election) के बाद विपक्षी पार्टियों में आत्मचिंतन का दौर चल रहा है| हार को भुलाने का एक तरीका यह भी है फिर से कार्यकर्ताओं में जोश भरा जाये ताकि आगामी विधानसभा चुनावों के लिए पार्टियां फिर से तैयार रहे | कार्यकर्ताओं में जोश भरने की कवायद में महाराष्ट्र की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(NCP) एनसीपी प्रमुख शरद पवार ( Sharad Pawar) ने अपने कार्यकर्ताओं को आरएसएस(RSS) से सीख लेने की सलाह दी है|

शरद पवार (sharad pawar) ने कहा कि आप (पार्टी कार्यकर्ताओं) को यह देखना चाहिए कि आरएसएस के सदस्य कैसे प्रचार करते हैं, यदि वे 5 घरों में जाते हैं और उनमें से 1 बंद हो जाता है, तो वे अपना संदेश भेजने तक बार-बार आते हैं| लोगों के संपर्क में कैसे रहें, आरएसएस के सदस्य इसे अच्छी तरह जानते हैं|

बीकानेर की रानी से दुर्व्यवहार पर अकबर को मिली थी ये सज़ा


आगे उन्होंने कहा कि,’कार्यकर्ताओं को आज से ही मतदाताओं से मिलने के लिए घर-घर जाना शुरू कर देना चाहिए| यदि आप ऐसा करते हैं, तो महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के मतदाता यह नहीं पूछेंगे कि अब आप हमें क्यों याद करते हैं?’| गौरतलब है कि पिछले दिनों कांग्रेस में एनसीपी में मिल जाने की खबरें आम हो रही थी जिसके बाद खुद शरद पवार ने इन खबरों का खंडन किया और कहा कि ऐसा कभी नहीं होगा| इससे पहले लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) को लेकर अपनी बेबाक राय रखते हुए एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Sharad Pawar On PM Narendra Modi ) पर हमला करते हुए कहां था कि वैसे तो पीएम मोदी ठीक हैं, लेकिन चुनाव के दौरान उन्मादी हो जाते हैं|

ज्योतिरादित्य के ख़िलाफ़ दिग्गी परिवार

पवार ने पार्टी के कार्यकर्ताओं को व्यक्तिगत तौर पर किसी की आलोचना से बचने की सलाह दी| उन्होंने कहा कि यह जिम्मेदारी प्रधानमंत्री ने संभाल रखी है| दौंड में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे पवार ने कहा, ‘मैं आपसे कहना चाहूंगा कि व्यक्तिगत तौर पर किसी की आलोचना नहीं करें| जब देश के प्रधानमंत्री ने यह जिम्मेदारी संभाल रखी है तो आपको इसमें क्यों पड़ना?’|

बंगाल में बीजेपी की विजय रैलियों पर पाबंदी

Share.