पुलिस ने भाई के बयान के बाद कसा शिकंजा

1

वरिष्ठ पत्रकार कल्पेश याग्निक सुसाइड मामले में पुलिस ने जांच का काम तेज़ कर दिया है| इस मामले में उस ब्लैकमेल करने वाली महिला पत्रकार सलोनी अरोरा की सरगर्मी से तलाश शुरू कर दी गई है| इंदौर पुलिस ने सलोनी की तलाश में मुंबई के शास्त्रीनगर के अलावा अन्य स्थानों पर दबिश देकर, उन लोगों से पूछताछ करना शुरू कर दी है, जो सलोनी को करीब से जानते हैं और उसके बारे में पुलिस को कुछ इनपुट्स दे सकते हैं | हालांकि पुलिस इस मामले में बड़े ही गोपनीय तरीके से काम कर रही है| पुलिस का दावा है कि अब उसके पास महिला पत्रकार के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं|

दिल्ली भागी सलोनी

इंदौर पुलिस के मुंबई के शास्त्रीनगर पहुंचने के पहले ही सलोनी दिल्ली भाग गई। इसके बाद पुलिस ने सलोनी का पासपोर्ट जब्त कर लिया है और उसके खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी कर दिया| अब सलोनी विदेश नहीं भाग सकती है| पुलिस के अनुसार सलोनी का मोबाइल नंबर फर्जी नाम-पते पर निकला है। सलोनी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने अलग -अलग टीमें गठित की हैं|

इंदौर पुलिस ने ली मुंबई पुलिस की मदद

इंदौर पुलिस की टीम सीएसपी जयंत राठौड़  की अगुवाई में मुंबई पहुंची, जहां इस टीम ने मुंबई पुलिस की मदद से फ्लैट का ताला तोड़ा| फ्लैट में सलोनी का  फोन चार्जिंग पर लगा हुआ मिला| पुलिस ने यहां से अलमारी में रखा पासपोर्ट भी जब्त किया| पुलिस ने सलोनी को लेकर कुछ लोगों से पूछताछ की है, जिसके आधार पर यह जानकारी जुटाई है कि  सलोनी ने दिल्ली में एक फिल्म वितरक से मुलाकात की है।इस बीच सलोनी के विदेश भागने की आशंका में डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने उसके विरुद्ध लुकआउट सर्कुलर जारी करवा दिया है।

देती थी परिवार को बर्बाद करने की धमकी

पुलिस ने अब तक जो जानकारी जुटाई है, उसके मुताबिक सलोनी याग्निक परिवार को बर्बाद करने की धमकी देती थी। सलोनी ने यह भी कहा था कि मेरी मांग पूर्ण नहीं करने और नौकरी पर वापस नहीं लेने पर मरने पर विवश कर दूंगी। सलोनी पत्नी को जानकारी देने और झूठा केस करने की धमकी देकर कल्पेश को परेशान कर रही थी| पुलिस का कहना है कि सलोनी से कुछ लोग जुड़े हुए हैं, जिनके खिलाफ साक्ष्य एकत्रित किए जा रहे हैं। अब पुलिस फिल्म वितरक की भी तलाश कर रही है|

अलग-अलग टीम कर रही पूछताछ

पुलिस की दो टीम नीमच में पिता और एक टीम रतलाम में बहन और जीजा से पूछताछ कर चुकी है| पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, सलोनी पत्रकार याग्निक को 11 वर्षों से प्रताड़ित कर रही थी। सलोनी ने शुरुआत में 25 लाख की मांग की और रुपए देने का आश्वासन मिलते ही उसका लालच बढ़ गया तो वह  1 करोड़ रूपए की मांग करने लगी| बाद में रकम बढ़कर 5 करोड़ हो गई| ब्लैकमेलिंग की राशि सुनकर वरिष्ठ पत्रकार कल्पेश ने रुपए देने से इनकार कर दिया।

Share.