सुरक्षा एजेंसियों ने कई लोगों को गिरफ्तार किया

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमले की साजिश का खुलासा हुआ है। हाल ही में मिली जानकारी के अनुसार, हमले की साजिश रचने के मामले में सुरक्षा एजेंसियों ने मंगलवार को बड़ी कार्रवाई की है। हैदराबाद, महाराष्ट्र,फरीदाबाद, दिल्ली में कई स्थानों पर सुरक्षा एजेंसियों द्वारा छापे मारे गए। छापेमारी के दौरान सुरक्षा एजेंसियों ने कई संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है। सुरक्षा एजेंसियों द्वारा फरीदाबाद से सुधा भारद्वाज को गिरफ्तार किया गया है।

सुरक्षा एजेंसी को उनके पास से कुछ सामान भी बरामद हुआ है। उनका लैपटॉप और पेन ड्राइव भी जब्त कर लिया गया है। दिल्ली से गौतम नवलखा और हैदराबाद से वरवरा राव को हिरासत में लिया गया है।  ठाणे से अरुण परेरा और मुंबई से वरवॉन गोंजाल्विस को हिरासत में लिया गया है।  इन सभी को नक्सलियों से साठगांठ के आरोप में हिरासत में लिया गया है।  नक्सली पीएम मोदी पर हमले की साजिश रच रहे थे।  पकड़े गए सभी लोग सामाजिक कार्यकर्ता और कलाकार हैं।

इससे पहले भी जून में भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में पांच संदिग्धों की गिरफ्तारी के बाद नक्सलियों की ओर से PM मोदी की हत्या की साजिश रचे जाने का सनसनीखेज खुलासा हुआ था। नक्सलियों के संपर्क में रहने के आरोप में दिल्ली से गिरफ्तार किए गए रोना जैकब विल्सन के पास से मिली एक चिट्ठी से इस साजिश का खुलासा हुआ था।

पीएम की सुरक्षा व्यवस्था पर नज़र डालें तो एसपीजी जवानों के हाथ में उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी है। मोदी की सुरक्षा में सामने और अज्ञात रूप से कम से कम एक हजार से ज्यादा कमांडो तैनात रहते हैं। पीएम मोदी एडवांस सुरक्षा वाली बुलेटप्रुफ बीएमडब्ल्यू 7 में सफर करते हैं। सफर शुरू होने से पहले मोदी के काफिले में चलने वाली कारों की एसपीजी अच्छी तरह जांच करती है। एसपीजी के ग्रीन सिग्नल मिलने के बाद ही सफर शुरू होता है।

Share.