ग्वालियर में धारा 144 लागू  

0

मध्यप्रदेश में गुरुवार को दलित आंदोलन को लेकर पुलिस और प्रशासन सकते में नज़र आया| दलित आंदोलन को लेकर ग्वालियर जिले में 13 अगस्त तक धारा 144 लागू कर दी गई| दलित आंदोलन की सुगबुगाहट के कारण सुबह से ही शहर में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात नज़र आया|

शहर के प्रमुख मार्गों पर पुलिस बल तैनात किया गया था| शहर में पुलिस ने व्यवस्था बनाए रखने के लिए मार्च भी निकाला| वहीं शहर में धारा 144 के कारण किसी भी व्यक्ति को सड़क पर समूह में खड़ा होने से पुलिस ने रोका|

ग्वालियर-चंबल में 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान हुए उपद्रव के बाद दलित वर्ग के लोगों पर दर्ज केस वापस लेने की मांग के लिए यह आंदोलन हो रहा है| इसके कारण ग्वालियर में बुधवार सुबह 6 बजे से धारा 144 लागू करने के आदेश जारी किए गए|

इधर भिंड में भी कलेक्टर ने संभावित आंदोलन की चेतावनी के मद्देनजर इंटरनेट सेवाएं बंद करने के लिए पत्र लिखा| कुल मिलाकर दलित आंदोलन की आग फिर से न भड़के, इसे लेकर प्रशासन भी अलर्ट नज़र आया|

भिंड में इंटरनेट पर प्रतिबंध

दलित आंदोलन के कारण भिंड के कलेक्टर ने इंटरनेट सेवाएं बंद करने के लिए शासन को पत्र लिखा है| कलेक्टर आशीष गुप्ता ने पत्र में गृह मंत्रालय से 8 अगस्त से 10 अगस्त तक इंटरनेट सेवाओं को बंद करने के लिए अनुमति मांगी| वहीं प्रशासन द्वारा सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालने और इसके दुरुपयोग को लेकर भी चेतावनी जारी की गई है| इसके अलावा भिंड और मुरैना में धारा 144 भी लगाई गई|

Share.