फर्जी कंपनियों पर होगी कार्रवाई

0

सेबी में बिना रजिस्ट्रेशन के निवेश की सलाह देने वाली संस्थाओं पर कार्रवाई करने की तैयारी कर ली है| भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी-सिक्यूरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इण्डिया) में पंजीयन करवाए बिना लोगों को निवेश की सलाह देने वाली संस्थाओं, वेबसाइट और व्यक्तियों पर भारतीय दण्ड संहिता के प्रावधान अनुसार कार्रवाई की जाएगी| मंत्रालय में प्रमुख सचिव वित्त अनुराग जैन की अध्यक्षता में हुई राज्य स्तरीय समन्वय समिति की बैठक में यह निर्णय लिया गया| बैठक में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया, सेबी, सहकारिता, संस्थागत वित्त, गृह विभाग सहित पुलिस के अधिकारी शामिल हुए| प्रदेश में संचालित 75 अपंजीकृत संस्थाओं की सूची सेबी द्वारा राज्य शासन को सौंपी गई है|

उल्लेखनीय है कि सेबी रेग्युलेशंस-2013 के अनुसार निवेश संबंधी सलाहकार सेवा प्रदाता को सेबी में पंजीयन कराना अनिवार्य है| यह अपंजीकृत संस्थाएं, व्यक्ति, एसएमएस/फोन कॉल द्वारा निवेशकों को निश्चित मुनाफे का प्रलोभन देकर निवेश के लिऐ प्रेरित करते हैं| यह गतिविधियां भारतीय दंड संहिता के अनुसार धोखाधड़ी की श्रेणी में आती हैं| गौरतलब है कि पूर्व में भी इन्दौर की 7 संस्थाओं पर स्पेशल टास्क फोर्स द्वारा कार्रवाई की गई थी|

इन कम्पनियों पर कसेगा शिकंजा

सेबी द्वारा सौंपी गई सूची में 4 डब्ल्यू वेल्थ मैनेजमेंट भोपाल, इन्दौर की 777 रिसर्च डॉट कॉम एंड 777 ट्रेड डॉट कॉम, ए 2 फायनेंशियल सर्विसेस, के.डी. केपिटल, एनालिसिस एक्सचेंज इन्वेस्टमेंट सर्विसेस, अपेक्स ग्लोबल, आरोहा केपिटल प्राईवेट लिमिटेड, बिग लाईफ केपिटल, केपिटल लाईव फायनेंशियल एडवाइजरी प्राईवेट लिमिटेड, केपिटल मार्स, केपिटल दा केपिटल एसकेवाय, केपिटल मनी मंत्रा, केपिटल विस्टा/रिसर्च विस्टा, केप विजन डॉट ओआरजी, केरेट रिसर्च, कैशकाऊ रिसर्च, कोर फायनेंशियल रिसर्च, ड्रीम रिसर्च साल्यूशन, इक्विटी मनी गुरू, ई.आर.एच. रिसर्च हाउस, एक्जेक्ट की, फायनेंशियल बाजार मार्केट रिसर्च, प्रतीक पटेल- गौरी पाण्डे- कशिश ग्रेवाल, ग्लोबेक्स मनी, जी.वी.एम.रिसर्च, इन्वेस्टमेंट ऐकेडमी, इन्वेस्टमेंट इंडिया एडवायजरी, इन्वेस्टमेंट इंडिया फायनेंशियल सर्विसेस, इन्वेस्टर इंडिया रिसर्च, काईट्स रिसर्च एडवायजरी, मेक्स इंडिया रिसर्च, मित्रमनी फायनेंशियल रिसर्च कम्पनी, मोनार्क नेटवर्थ केपिटल लिमिटेड, मनी इन्क्रीज, मनी राईज रिसर्च, मनी ट्री रिसर्च एंड स्वास्तिक सर्विसेस, निफकॉन इंस्टीट्यूट और पोर्टफोलियो रिसर्च लेब शामिल हैं|

इन्दौर की प्रीमियम केपिटल रिसर्च, प्रीमियम रिसर्च फायनेंशियल सर्विसेस, प्रोफिश्यिंट रिसर्च, प्रोफेट मंत्रा, गोल्ड क्रूड रिसर्च, सिक्योर इन्वेस्टर इन्वेस्टमेंट एडवायजरी, श्री रिसर्च सर्विसेस, दा अपेक्स ग्लोबल, ट्रेड गुरू, ट्रेजर मेग्नीफायर, विवान रिसर्च, वेल्थ मेनेजमेंट रिसर्च, वेल्थ गेन, विशवर्थ फायनेंशियल सर्विसेस के नाम भी सेबी की सूची में शामिल हैं|

सेबी की ओर से सौंपी गई सूची में बेवसाईटस का भी उल्लेख है, इनमें  www.capproin.com  से संचालित कारपरेशन फायनेंशियल सर्विसेस, www.capresarch.inwww.ffsplvuysellsoftware.in के नाम से संचालित फिन एश्योर फायनेंशियल सर्विसेस प्रायवेट लिमिटेड www.mcapital.in से संचालित एम.आर.केपिटल सर्विसेस www.technicaltrade.orgwww.valuepick.org और www.vivanquities.com हैं|

इन्दौर के अतिरिक्त अन्य स्थानों से अपनी गतिविधियां संचालित करने वाले व्यक्तियों/संस्थाओं में शिवपुरी की केपिटल गेन रिसर्च, छत्तीसगढ़ की परपीचुअल रिसर्च कॉम भोपाल की शेयरपति डॉट कॉम, दिल्ली की स्टेप्स केपिटल सर्विसेस एंड केपिटल मनी मंत्रा, मुंबई की डिवाईन गेन रिसर्च तथा गोलू पंडागरे शामिल हैं| इसके अतिरिक्त फर्स्ट केपिटल इन्वेस्टमेंट एडवाइजर्स एंड अपेक्स रिसर्च, ग्लोबल सिक्यूरिटिज, इम्पेक्ट रिसर्च, लाईव टिप्स मार्केट रिसर्च, मेपल रिसर्च, माय मनी प्लांट, स्टॉक मार्केट टेक्निकल रिसर्च एंड बुल्स बेक रिसर्च डॉट कॉम, स्टॉक मार्केट टेक्निकल रिसर्च एंड इंडियन स्टॉक रिसर्च और वेल्थ ग्रो रिसर्च भी सूची में सम्मिलित हैं|

इंदौर में ग्राहकों को धोखा दे रही फर्जी एडवाइज़री कंपनियां

Video: एडवाइज़री कंपनियों की कारस्तानी से परेशान निवेशक

Video: आखिर क्यों कम हो रहा है एडवाइज़री मार्केट पर लोगों का विश्वास?

Share.