सिंधिया समर्थक पर दुष्कर्म का आरोप

0

मध्यप्रदेश के गुना से सांसद और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के एक समर्थक मुसीबत में फंस गया है| उस पर एक महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगाया है| यह समर्थक एक कॉलेज का संचालक और कांग्रेसी नेता हैं|

उल्लेखनीय है कि माधव ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूट के इंजीनियरिंग कॉलेज माधव प्रौद्योगिकी महाविद्यालय के संचालक राजेश पाराशर के खिलाफ टीटीनगर पुलिस थाने में अपनी ही महिला कर्मचारी के साथ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। महिला ने आरोप लगाया है कि राजेश पाराशर ने 6 साल पहले उसका दुष्कर्म किया और वीडियो बना लिया। उसके बाद से वह लगातार उसे ब्लैकमेल कर रहा हैं। पाराशर सिंधिया समर्थक कांग्रेसी नेता हैं। उन्होंने अपनी संस्थाओं का नाम ‘स्व.माधवराव सिंधिया’ के नाम से जोड़कर रखा है।

बनाता था दबाव

टीटी नगर पुलिस के मुताबिक करोंद निवासी 37 वर्षीय महिला राजेश के कॉलेज में प्रशासनिक अधिकारी थी। वह कॉलेज के टीटी नगर स्थित ऑफिस में पदस्थ थी। महिला ने बताया कि राजेश शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव बना रहा था, लेकिन जब उसने इनकार कर दिया तो उसे नौकरी से निकाल दिया। बाद में सब कुछ भुला देने की बात कहते हुए उसे वापस नौकरी पर रख लिया। महिला का आरोप है कि छह साल पहले 25 अगस्त 2012 की शाम को वह ऑफिस में काम कर रही थी, तभी राजेश ने अपने केबिन में बुलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया और इसका वीडियो बना लिया। वीडियो वायरल करने की धमकी देकर वह साढ़े पांच साल से शारीरिक शोषण कर रहा था| 10 अप्रैल को उसने न्यू मार्केट के होटल में बुलाकर फिर दुष्कर्म किया।

पैसे नहीं दिए तो रिपोर्ट

आरोपी राजेश की पत्नी मनोरमा पाराशर ने बैंक खाते की डिटेल दी है। इसमें 8 लाख से अधिक रुपए महिला के खाते में ट्रांसफर किए गए हैं। उन्होंने बताया कि महिला को 20 लाख का चेक दिया था। वह 20 लाख रुपए नकद भी मांग रही थी। जब उसकी डिमांड पूरी नहीं की तो एफआईआर करा दी। मनोरमा ने बताया कि महिला घर खरीदना चाहती थी। मांग पूरी नहीं होने पर दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है|

Share.