बीजेपी ज्वाइन करने के सवाल पर सचिन पायलट का जवाब

0

राजस्थान में कांग्रेस के अंदरूनी सियासी बवाल में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की जीत हुई और सचिन पायलट को निलंबन झेलना पड़ा . कांग्रेस ने पायलट को उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर दिया . ऐसे अब सचिन पायलट के पास राजनीति में तीन राह बची है जो उनके सामने विकल्प के तौर पर हैं.

Rajasthan Government Crisis Live : गहलोत का पलड़ा भारी, सचिन बर्खास्त

If Rajasthan Border Not Been Sealed Sachin Pilot Would Have Shown ...

कांग्रेस के साथ ही रहे

कांग्रेस में सुलह समझौते के रास्ते सचिन के लिए खुले है . वे अब भी पार्टी में बने रह सकते है जिसकी सम्भावना सबसे ज्यादा है.

बीजेपी का दामन थाम ले

MP:शिवराज ने मंत्रियों को विभाग बांटे, इन विभागों पर सिंधिया समर्थकों का कब्जा

सचिन पायलट के पास ज्योतिरादित्य सिंधिया की तरह बीजेपी में शामिल होने का विकल्प भी है .बीजेपी ने पायलट और उनके समर्थकों के स्वागत के लिए अपने सारे दरवाजे पहले से खोल रखे है. हालाँकि सचिन पायलट ने कहा कि मैं राजस्थान कांग्रेस का हिस्सा रहते हुए बीजेपी के खिलाफ लड़ाई लड़ी है और राजस्थान में कांग्रेस बनवाई है.

अगर कोई व्यक्ति या पार्टी राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश कर रही है तो यह नहीं माना जा सकता है कि मैं उनसे जुड़ जाऊंगा. सचिन पायलट ने कहा कि जो लोग कह रहे हैं कि मैं बीजेपी में शामिल होने वाला हूं, वो मेरी छवि को धूमिल करने की कोशिश कर रहे हैं. मैंने उकसावे और पद छीनने के बावजूद पार्टी के खिलाफ एक भी शब्द नहीं कहा है.

हम भविष्य के लिए अपनी रणनीति तय करने जा रहे हैं. सचिन पायलट ने कहा कि मैंने 100 बार कहा कि मैं बीजेपी में शामिल नहीं हो रहा हूं. दिल्ली में बैठे लोगों के दिमाग में डालने के लिए विरोध कैंप के लोगों की ओर से अफवाह फैलाई जा रही है. मैं जल्दबाजी और चालबाजी नहीं करना चाहता हूं.

Sachin pilot aur Amit Shah ki ho sakti hai mulakat third front ke ...

नई पार्टी भी एक विकल्प है

राज हथियाओं नीति के निशाने पर अब राजस्थान

सचिन बीजेपी-कांग्रेस दोनों से किनारा कर अपनी ही पार्टी बनाने का कदम भी उठा सकते है. सचिन पायलट नई पार्टी गहलोत को सीधे चुनौती देंने की उनकी मंशा का परिणाम होगी

Crisis on Congress government in Rajasthan, tussle between Sachin ...

 

Share.