राम मंदिर निर्माण के लिए ऐसा दान, छा गए ‘सियाराम’

0

चुनाव आते ही राम मंदिर निर्माण का मुद्दा गरमाने लगता है और तमाम हिन्दू संगठन इसके लिए आवाज बुलंद करने लगते हैं। ऐसे में मोदी सरकार को समर्थन देने वाली सभी पार्टियां और देशभर के तमाम हिंदूवादी संगठन राम मंदिर निर्माण के लिए सरकार पर अध्यादेश लाने का दबाव बना रहे हैं। आगामी 25 नवंबर को संतों के आग्रह पर अयोध्या में एक धर्मसभा आयोजित की जा रही है। इस धर्मसभा में सभी हिंदूवादी संगठन भी शामिल होंगे, जिसमें विश्व हिन्दू परिषद और बजरंग दल प्रमुख हैं। इसके अलावा शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी इस सभा का हिस्सा बनेंगे।

मंदिर निर्माण को लेकर हो रही इस धर्मसभा के पहले प्रतापगढ़ के अंतु थाना क्षेत्र के एक निवासी सियाराम ने अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए 1 करोड़ रुपए का चेक विश्व हिंदू परिषद के नाम पर दिया है। सियाराम द्वारा राम मंदिर के निर्माण के लिए दान दी गई इतनी बड़ी रकम पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गई है।

गौरतलब है कि सियाराम संघ के पूर्व सह संघ चालक हैं। राम मंदिर निर्माण को लेकर चल रहे विवादों के बीच मो. इकबाल अंसारी ने एक बड़ा बयान दिया है। बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने कहा कि सरकार राम मंदिर निर्माण के लिए जो भी क़ानून बनाना चाहती है, बेझिझक बनाए, हमें कोई एतराज नहीं है।

हम कानून का सम्मान करने वाले लोग हैं और देश में अमन-चैन चाहते हैं। हिंदूवादी संगठनों के पस्तावित कार्यक्रमों के विरोध में आयोजित एक सभा में शामिल होने आए इकबाल ने पत्रकारों से मुखातिब होते हुए कहा कि ‘कोई भी मुसलमान कभी फसाद नहीं चाहता, हम देश का नुकसान भी नहीं चाहते।’ उन्होंने सभी दलों से अपील करते हुए कहा कि राम मंदिर और बाबरी मस्जिद को राजनीति का हिस्सा न बनाएं।

Share.