अब रोबोट बनेगा बॉस

0

तकनीक की दुनिया में सब कुछ संभव है| ऐसे में अब आपका इंटरव्‍यू भी रोबोट (robot) ले तो ताज्जुब नहीं होगा| रोबोट ही ऑफिस में आपका बॉस भी हो सकता है| पहले पहल यह मुमकिन नहीं लगता लेकिन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (artifical Intelligence) के तहत अब कैंडिडेट्स के इंटरव्यू इंसान के बजाय रोबोट ले रहे हैं| अब रोबोट एल्गोरिदम (Robots Will Ask Questions In Interview ) की मदद से लोगों के चेहरे के हाव-भाव पढ़ने की कोशिश की जा रही है| आवाज से आत्मविश्वास जैसे गुणों का पता लगाया जा रहा है| क्या वे खुश हैं? और अन्य कई मानवीय संवेदनाये भी रोबोटिक विडियो असेसमेंट सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल से पता की जा रही है और कंपनियों में हर लेवल की हायरिंग इस माध्यम से कर रही है|

Paper leak case : उत्तर प्रदेश सरकार ने की कार्रवाई

एक्सिस बैंक के एचआर हेड राजकमल वेंपति ने एक इंटरव्‍यू में बताया कि बैंक ने इस साल 40 हजार से ज्यादा कैंडिडेट्स में से दो हजार कस्टमर सर्विस ऑफिसर्स की भर्ती के लिए एप्टिट्यूड टेस्ट के साथ एल्गोरिदम वाले वीडियो इंटरव्यू की मदद ली थी|  इस बारे में वीबॉक्स के सीईओ निर्मल सिंह ने बताया कि उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट के फेस-इंडेक्सिंग सॉफ्टवेयर को एक्सिस बैंक में 2017 में अप्लाई करने वाले करीब 50 हजार कैंडिडेट्स पर आजमाया था|

निर्दयी पिता ने अपने 12 साल के बच्चे की ली जान

सॉफ्टवेयर ने घबराहट और खुशी जैसे भावों को लोगों की आंखों की मूवमेंट, हाव-भाव और आवाज की टोन से समझा था| उसी हिसाब से कैंडिडेट को नंबर मिले थे| उसके आधार पर ही उनका चयन किया गया था| अब कंपनियां इस दिशा में आगे बढ़ रही हैं| वैसे आज कल कुछ भी नामुमकिन नहीं कहा जा सकता है| तकनिकी का विकास इस कदर हो चूका है कि सब कुछ संभव है| अब रोबोट एल्गोरिदम की मदद से लोगों के चेहरे के हाव-भाव पढ़ने, आवाज से आत्मविश्वास, ख़ुशी-गम और अन्य कई मानवीय संवेदनाये भी रोबोटिक विडियो असेसमेंट सॉफ्टवेयर के जरिये महसूस कर कंपनियों में हर लेवल की हायरिंग में मदद ली जा रही है |

महबूबा से गौतम का गंभीर युद्ध

Share.