उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी पर कब्जा

0

एनडीए को छोड़ महागठबंधन में शामिल हुए राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा की परेशानी बढ़ गई है। उनके कुल तीन विधायकों ने पार्टी पर कब्जा कर लिया है। उन्होंने चुनाव आयोग को इसके बारे में पत्र भी लिखा है।

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के प्रदेश महासचिव और सह प्रवक्ता मनोजलाल दास ने चुनाव आयोग को लिखा है कि पार्टी के दो एमएलए और एक एमएलसी पार्टी अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा से अलग होकर पार्टी चला रहे हैं इसलिए चुनाव के निर्वाचन प्रतीक आदेश के तहत सीलिंग फैन चुनाव चिन्ह पर उनका दावा बनता है, उपेंद्र कुशवाहा का नहीं।

चुनाव आयोग को लिखे अपने पत्र में मनोजलाल दास ने लिखा कि पार्टी के तीनों विधायकों ने उपेंद्र कुशवाहा के निर्णय के खिलाफ एनडीए में बने रहने का फैसला किया है।

शिक्षा सुधार यात्रा निकालने की तैयारी

उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि पार्टी 3 जनवरी से बिहार में शैक्षणिक सुधार के लिए राज्यव्यापी आंदोलन करेगी। बिहार के हर कोने में शिक्षा सुधार यात्रा निकाली जाएगी। उन्होंने कहा, शैक्षिक सुधार के लिए सौंपे गए चार्टर में राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा शिक्षकों की भर्ती, शिक्षकों को गैर-शैक्षणिकों कार्यों से पूरी तरह हटाने, विद्यार्थियों के लिए 75 फीसदी उपस्थिति अनिवार्य बनाने जैसे बड़े प्रस्ताव शामिल हैं।

उपेंद्र कुशवाहा ने एनडीए से दिया इस्तीफा

NDA का एक और सहयोगी नाराज़

भाजपा-जेडीयू के बीच सीटों पर सहमति, जल्द होगी घोषणा

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.