आसाराम नाम से रहवासी शर्मिंदा

0

नाबालिग़ से दुष्कर्म के मामले में आसाराम को जोधपुर कोर्ट ने आजीवन कारावास की सज़ा सुनाई  है| आसाराम के दुनिया में कई आश्रम हैं| उसके नाम पर कई चौराहों और कॉलोनियों का निर्माण भी किया गया है, लेकिन अब इस नाम से लोगों को शर्मिंदगी महसूस हो रही है|

मध्यप्रदेश के भोपाल में बागसेवनिया पुलिस स्टेशन के पास बनी एक कॉलोनी का नाम ‘संत आसाराम नगर’ है| जिस दिन आसाराम को सज़ा हुई, उस दिन से ही यहां रहने वाले लोग मांग कर रहे हैं कि उनकी कॉलोनी को नया नाम दिया जाए|

बताया जा रहा है कि सज़ा के ऐलान के बाद स्थानीय लोग सड़कों पर आए और जहां भी कॉलोनी का नाम लिखा था, उसे मिटा दिया। महिलाओं ने भी इसमें हिस्सा लिया और उन नेमप्लेट्स को हटाया, जिन पर कथित संत आसाराम का नाम लिखा था| इस कॉलोनी में रहने वाले सोसायटी के मेंबर एनपी अग्रवाल ने कहा, “हम यहां पिछले 12 वर्षों से रहते हैं| हमने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन कॉलोनी का नाम हमारे लिए शाप बन जाएगा|”

यहां रहने वाले प्रदीप विजयवर्गीय कहते हैं, “किसी को अपना पता बताने में हमें अजीब सा लगता है| हम किसी ऐसे व्यक्ति के साथ कॉलोनी का नाम नहीं जोड़ सकते, जिसे कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा दी हो| यहां तक कि बच्चे भी ऐसा नहीं चाहते हैं|”

Share.