हाईकोर्ट के आदेश, हटाई जाए पीएम और सीएम की तस्वीरें

0

आगामी चुनाव को देखते हुए कोर्ट ने आदेश दिया है कि सभी सरकारी कार्यालयों एवं आवासों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की तस्वीर हटा ली जाए। अगर कहीं किसी दीवार पर टाइल्स में नेता की तस्वीर लगी है तो उसे भी हटाने के निर्देश दिए हैं। विधानसभा चुनाव से पहले दिए गए इस आदेश को  मध्यप्रदेश हाईकोर्ट का बड़ा आदेश माना जा रहा है।

कोर्ट ने बुधवार (19 सितंबर) को कहा कि ” प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के तहत बने घरों में अंदर टाइल्सों से पीएम और सीएम की तस्वीरें हटा ली जाएं।” कोर्ट ने इसी के साथ साफ किया है कि घरों में किसी और राजनेता के फोटो भी नहीं होने चाहिए। कोर्ट ने यह काम करने के लिए 20 दिसंबर तक की मोहलत दी है। मध्यप्रदेश में पीएमएवाई योजना के तहत बने सभी घरों में पीएम मोदी और सीएम शिवराज की तस्वीर वाली दो सेरेमिक टाइल्स लगी हैं, जिनमें से एक किचन में प्लेटफॉर्म के ऊपर सामने की दीवार पर और दूसरी टाइल्स मकान के मुख्य द्वार के ऊपर लगी है। कोर्ट ने यह भी साफ़ किया है कि टाइल्स पर अब सिर्फ पीएमएवाई का लोगो ही नज़र आएगा।

जनता के पैसों से बनाए गए इन मकानों पर आखिर क्यों पीएम और सीएम की तस्वीर लगाई गई, इस विषय में जुलाई में इस मामले को लेकर एक जनहित याचिका (पीआईएल) दाखिल की गई थी। याचिकाकर्ता ने उसके जरिये शिकायत की थी कि आखिर पीएम मोदी और सीएम शिवराज की तस्वीरें इन सरकारी मकानों में क्यों इस्तेमाल की गईं? टाइल्स में सबसे ऊपर ‘सबका सपना-घर हो अपना’ का स्लोगन लिखा है| स्लोगन के साइड में ऊपर प्रदेश सरकार का लोगो और बीजेपी के विचारक दीनदयाल उपाध्याय के चित्र वाला लोगो है|

Share.