गोरखपुर की घटना, अपराधी को पुलिस ने लिया हिरासत में

0

कुछ समय पहले जौनपुर में पूरे गांव का धर्म परिवर्तन करवाने का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि उत्तर प्रदेश के ही गोरखपुर स्थित रघुनाथपुर गांव में एक और धर्म परिवर्तन का मामला सामने आया है। वहां के स्थानीय निवासियों का आरोप है कि एक युवक के घर प्रार्थना सभा के आयोजन के बहाने लोगों को बुलाया जाता है और उन्हें धर्म परिवर्तित कर लेने के लिए समझाया जाता है। इस बात की जानकारी मिलते ही हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता बड़ी तादाद में वहां पहुंच गए और जमकर हंगामा किया है। वहीं सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रार्थना सभा के आयोजक सहित पांच लोगों को हिरासत में लिया है। हिरासत में लिए गए लोगों के खिलाफ पुलिस ने धार्मिक विद्वेष भड़काने के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

मामला गुलरिहा थाना के भटहट इलाके के रघुनाथपुर गांव का है, जहां ग्रामीणों ने सूचना दी कि प्रार्थना सभा की आड़ में धर्म-परिवर्तन किया जा रहा है।  ग्रामीणों की सूचना के अनुसार, हरिजन बस्ती में अनिल के घर पर धर्म परिवर्तन किया जा रहा था। जैसे ही यह सूचना हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं को मिली, वे लोग तुरंत अनिल के घर पहुंचे और उन्होंने अनिल के घर को चारों तरफ से घेर लिया और पुलिस को सूचना दी। चौकी प्रभारी भटहट पीके सिंह ने मौके पर पहुंचकर शक के आधार पर पांच लोगों को हिरासत में ले लिया है।

गिरफ्तारी के दौरान सभा में आई कई महिलाओं ने विरोध शुरू कर दिया। पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में लोगों ने बताया कि हर रविवार को अनिल के घर विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन किया जाता है और प्रार्थना सभा के बहाने लोगों की गंभीर बीमारियां ठीक करने की बात कहते हुए बहला-फुसलाकर उनका धर्म परिवर्तन कराया जाता है। फिलहाल पुलिस मामले की गहन जांच में जुटी हुई है।

Share.