तीसरी में पढ़ने वाली बच्ची से दुष्कर्म

2

प्रदेश में बच्चियों के साथ हो रहे अपराधों में कमी लाने का दावा करने वाली सरकार इन पर नकेल कसने में नाकाम साबित हो रही है| कानून को धता बताते हुए बदमाश इस तरह के जघन्य अपराधों को अंजाम दे रहे हैं| बुधवार को प्रदेश में मंदसौर में एक बार फिर इंसानियत तार-तार हुई, जब एक 7 साल की मासूम से दुष्कर्म कर आरोपी ने उसे झाड़ी में फेंक दिया| बच्ची तीसरी कक्षा की छात्रा है|  पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है|

कक्षा तीसरी में पढ़ने वाली 7 साल की नाबालिग के साथ दरिंदे ने हैवानियत की हद पार कर दी। झाड़ियों में मासूम के साथ दरिंदगी कर बदमाश ने उसे झाड़ियों में ही छोड़ दिया। बुधवार को बदहाल अवस्था में मासूम को घर जा रहे एक युवक ने देखा और पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और बच्ची को अस्पताल ले जाया गया, जहां मेडिकल के बाद दुष्कर्म की पुष्टि हुई। बच्ची को उपचार के लिए इंदौर के एमवाय अस्पताल में रैफर किया गया है|

देर शाम पुलिस ने नाकाबंदी कर और अपनी टीमों को लगाकर आरोपी इरफ़ान उर्फ़ भय्यू निवासी मदारपुरा मंदसौर को गिरफ्तार कर लिया|

स्कूल गई थी, घर नहीं पहुंची

बच्ची मंगलवार को स्कूल गई थी, लेकिन घर नहीं पहुंची। इस पर परिजन ने तलाश करने के बाद कोतवाली थाने में पहुंचकर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई। पुलिस ने रात को नाकाबंदी शुरू कर बच्ची की तलाश की थी,  लेकिन बुधवार को बालिका का पता लगा। इसके बाद स्कूल से लेकर आसपास और अन्य क्षेत्रों में पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगालते हुए आरोपी की पहचान की| शाम को पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया|

शैक्षणिक सत्र के शुरू होने के कुछ दिनों बाद ही मासूम से हुई इस घटना ने लोगों को स्तब्ध कर दिया है| नए टिफिन, बोतल और बैग के साथ किताबें लेकर पहुंची मासूम को शायद इस बात का अंदाजा भी नहीं था कि वह अपने ही आसपास रहने वाले की हैवानियत का शिकार हो जाएगी| घटनास्थल पर पड़े टिफिन, बोतल और  बिखरी हुई किताबें उस मासूम का दर्द बयां कर रही थीं|

दुष्कर्म के बारे में जानकर लोग सड़कों पर उतर आए| उधमसिंह चौराहे पर भीड़ ने तोड़फोड़ की, जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर हालात पर काबू पाया| इस घटना के बाद सुबह से ही शहर बंद रहा| वहीं मुस्लिम समुदाय ने वकीलों से मांग की है कि कोई भी आरोपी के केस की पैरवी न करे और न ही दरिंदे को दफ़न करने के लिए कब्रिस्तान में जगह दी जाए|

Share.