जब केशवलाल ने बजाया हारमोनियम और रानू ने गाया गाना

0

कभी खुशी की आशा, कभी गम की निराशा,कभी खुशियों की धूप, कभी हक़ीक़त की छाया,कुछ खोकर कुछ पाने की आशा,शायद यही है ज़िंदगी की सही परिभाषा…

बड़ी अभिनेत्री ने की बेटी की हत्या, फिर खुद ने लगाई फांसी

सच कहाँ है  किसी ने अगर आपकी ज़िन्दगी में दुःख है तो कभी  आपकी ज़िन्दगी में ख़ुशी आएगी दो ऐसे  ही शख्स जिन्हे हमेशा अपनी ज़िन्दगी से एक ही उम्मीद थी निराशा की लेकिन उनकी ज़िन्दगी ने एक ऐसा मोड़ लिया की उनकी ज़िन्दगी रातों -रात बदल गई एक उम्मीद की किरण उनकी ज़िन्दगी में आई और एक सड़क से उन्हें ज़िन्दगी ने आसमान पर पहुंचा दिया वे कोई और नहीं बल्कि रानू मोंडल ( Ranu Mondal Song Video) और हारमोनियम प्लेयर केशवलाल (Keshavlal)  हैं |

सबसे पहले हम बात कर लेते है केशवलाल  (Keshavlal) की जो 2018 में सोशल मीडिया पर खूब छाए उनके हॉर्मोनियन ने उन्हें इंडियन आइडल (Indian Idol)  के मंच पर पहुंचा दिया| रोजी-रोटी के लिए सड़कों पर गाते हैं ‘केशव’ फिल्म ‘पुरानी नागिन’ में हारमोनियम बजाने वाले शख्स केशव आज दो वक्त की रोटी के लिए सड़क पर गाना गाने को मजबूर हैं। केशव, लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल जैसे बड़े संगीतकारों के साथ काम कर चुके हैं लेकिन कहते हैं ,न दो वक़्त कि रोटी सब कुछ करवा देती है, उनकी किस्मत ने ऐसा मोड़ लिया की वे पुणे की सड़को और फुटपाथ पर अपनी पत्नी के साथ घूम -घूम कर गाना गाते हैं ताकि उनके घर का गुज़ारा हो सके |

सपना चौधरी के Daroga Ji गाने ने लूटा करोड़ों लोगों का दिल

बता दें  केशवलाल (Keshavlal Harmonium Player) पत्नी सोनिबाई के साथ पुणे के वारजे इलाके में रहते हैं। यहां एक एनजीओ ने उन्हें सरकारी पुनर्वास योजना के तहत एक कमरा दिलाया काफी साल तक फुटपाथ पर ही रहे केशव कई सोसायटी में जाकर गाना गाया लेकिन कभी किसी से भीख नहीं मांगते। गाना सुनने वाले जो भी दे देते हैं उसे वो लेते हैं। केशव लाल कभी नहीं चाहते थे कि वे  फुटपाथ पर गाना बजाना करेंगे लेकिन किस्मत ने साथ नहीं दिया। बच्चे शराबी निकले, ऐसे में खुद का और बीवी का गुजारा करने के लिए हारमोनियम लेकर वे  फुटपाथ पर आ गए। केशव लाल गुजरात (Gujrat)  के रहने वाले हैं और वे 10 साल के थे जब से अपने पिता जी के साथ गाना हारमोनियम बजाते थे  और  उनके पिताजी श्रीलंका के कोलंबो में जवानों का मनोरंजन करते थे। लेकिन केशवलाल आखिर इंडियन आइडल (Indian Idol)  के मंच तक कैसे पहुंचे वो हम आपको बतातें है |

Gangwar Vs Pyaar Song : इस नए हरियाणवी गाने ने ढाया कहर

हर दिन अपनी जिन्दगी को एक नया ख्वाब दो,चाहे पूरा न हो पर आवाज तो दो,एक दिन पूरे हो जायेंगे सारे ख्वाब तुम्हारे,सिर्फ एक शुरूआत दो और वहीं शुरुआत की केशवलाल  (Keshavlal) ने  केशवलाल मुंबई में हारमोनियम लेकर फुटपाथ पर जगह -जगह  और जुहू बीच पर लोगों को गाना सुनाकर उनका मनोरंजन करते थे | एक दिन वे एक फिल्म स्टूडियो के बाहर हारमोनियम बजा रहे थे तब मशहूर फिल्म निर्माता व्ही शांताराम की उन पर  नजर पड़ी।

– तब उन्हें ‘पुरानी नागिन’ फिल्म में हारमोनियम (Ranu Mondal) बजाने का मौका मिला इस फिल्म के संगीतकार कल्याणजी आनंदजी थे। इसके बाद उन्हें काफी काम मिलने लगा। पैसे भी मिलने लगे लेकिन शादी के बाद वो नागपुर आ गए। फिर धीरे-धीरे किस्मत ने भी साथ छोड़ दिया और उन्हें मजबूरन हारमोनियम लेकर फुटपाथ पर लौटना पड़ा। ऐसी है केशवलाल की कहानी जिनकी किस्मत एक बार ऐसी उठी की आसमान तक लगाए लेकिन हालातो ने उन्हें फिर से फूटपाथ पर पहुंचा दिया केशवलाल को इंडियन आइडल के मंच पर भी हारमोनियम बजने का मौका मिला था और नेहा कक्कर और विशाल  डडलानी ने उन्हें 1 -1 लाख की सहयता राशि भी दी थी |

और अब फिर से एक ऐसा ही सितारा सोशल मीडिया और पुरे भारत में चमक रहा है रेलवे स्टेशन  (ranu Mondal Video Viral) पर एक प्यार का  नगमा गाने वाली भारत का चमकता सितारा बन गई वे कोई पोर नहीं बल्कि रानू मोंडल हैं (ranu Mondal Video Viral)  उन्होंने अपनी आवाज़ से पुरे देश को अपनी और खींच लिया | वे स्टेशन पर गाना गाकर पैसे कमाती  थी  और वहीँ स्टेशन पर गाने वाली रानू आज सा- रे- गा -मा -पा  (SA-RE-GA-MA-PA)के मंच पर जा रही हैं रानू मोंडल को लोगों ने फिल्म इंडस्ट्री की दूसरी लता मंगेष्कर (Lata Mangeshkar)  बता दिया हैं रानू  (ranu Mondal) ने 6 गाने गाए है जिसके बाद हर कोई रानू मोंडल  (ranu Mondal) का दीवाना हो गया |देखा आपने दोनों की ज़िन्दगी एक सड़क पर थी  दोनों गाना गाकर रोज़ी-रोटी कमाते थे ,लेकिन उनका हुनर दुनिया से नहीं छुपा और आज रानू (ranu Mondal) भारत का  सितारा बन गई सही  कहा है किसी ने किस्मत आपको आपकी मंज़िल तक ले ही जाती है |

Share.