NEET डाटा लीक पर CBSE को लिखा पत्र

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मेडिकल की पढ़ाई की लिए करवाई जाने वाली परीक्षा नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेस टेस्ट यानी नीट के परीक्षार्थियों के डाटा लीक होने के मामले में जांच की मांग की है। उन्होंने जांच की मांग करते हुए परीक्षा का आयोजन करने वाली संस्था केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की चेयरपर्सन को एक पत्र लिखा है। उन्होंने इस NEET डाटा लीक मामले में जांच के आदेश देने और ऐसे कदम उठाने की मांग की है, जिससे भविष्य में घटना न दोहराई जाए।

पत्र में उन्होंने लिखा है कि नीट की परीक्षा देने वाले दो लाख से ज्यादा छात्रों का डेटा कई वेबसाइट्स पर उपलब्ध है। उन्होंने लिखा, ‘मैं यह खबर सुनकर हैरान हूं कि कैसे देशभर के छात्रों का डाटा वेबसाइट्स तक पहुंच गया। कैसे छात्रों की प्राइवेसी के साथ खिलवाड़ किया गया है। मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि इस मामले में जांच के आदेश दिए जाएं। साथ ही ऐसे कदम उठाए जाएं, जिससे  आगे कभी ऐसा ना हो पाए।’

दरअसल, बीते दिनों यह मामला सामने आया था  कि 2018 में राष्ट्रीय पात्रता प्रवेश परीक्षा (एनईईटी) में शामिल होने वाले लाखों आवेदकों के फोन नंबर, ईमेल आईडी और पते ऑनलाइन उपलब्ध होने की खबरें सामने आ रही हैं। बताया जा रहा है कि इन सभी का NEET डाटा लीक कर दिया गया है और कुछ पैसे देकर यह डेटा बेचा भी जा रहा है।

देशभर में नीट में प्रदर्शन के आधार पर छात्रों को मेडिकल कॉलेजों में दाखिला दिया जाता है। नीट की एग्जाम प्रक्रिया पर यह आरोप भी लगे हैं कि नीट में नीचे रैंक हासिल करने वाले छात्रों से मोटा डोनेशन वसूलने के बाद उनके लिए सीटों को पहले से ही ब्लॉक कर दिया जाता है। मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम पर इस तरह के आरोपों के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने सीबीएसई को पत्र लिख उचित कार्रवाई की मांग की है।

यह खबर भी पढ़े – भाजपा-शिवसेना फिर आमने-सामने

यह खबर भी पढ़े – देश में आज मुस्लमान से बेहतर गाय होना’- थरूर

यह खबर भी पढ़े- अविश्वास प्रस्ताव से पहले भाजपा कांग्रेस आमने सामने

Share.