किसान बिल पर राहुल का हल्ला बोल

0

कृषि कानूनों के खिलाफ देश भर में चल रहे आंदोलन को कांग्रेश हाथों-हाथ भुनाने में लगी हुई है.कांग्रेस इसे लेकर लगातार हमलावर रुख बनाए हुए हैं राहुल गांधी लगातार केंद्र के मोदी सरकार पर शब्द बाण चला रहे है इसी क्रम में उन्होंने पंजाब में अपनी किसान यात्रा के तीसरे दिन जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार 6 साल से किसानों, मजदूरों और गरीबों पर आक्रमण कर रही है. केंद्र सरकार ने गरीबों के लिए कुछ नहीं किया, बस अपने अमीर दोस्तों के लिए ही किया.

राहुल गांधी ने कहा कि भट्टा परसौल में हमने जमीन के लिए लड़ाई लड़ी और जब मोदीजी आए तो उसे ही बदल दिया लेकिन हमने लड़ाई लड़ी. राहुल ने कहा कि एक दिन मोदी जी ने नोट बंद कर दिए, सारे गरीब-किसान बैंक के बाहर खड़े थे लेकिन अंबानी-अडानी बैंक के बाहर नहीं थे.कांग्रेस नेता ने कहा कि मोदीजी ने आधी रात को जीएसटी लागू किया, दुकानदार, कारोबारी सब खत्म हो गए. क्योंकि वो अपने अमीर दोस्तों के लिए रास्ता साफ कर रहे हैं. कोविड के समय कृषि कानून लाया गया, क्योंकि उन्हें लगा था कि कोरोना के डर से किसान सड़क पर नहीं आएगा.

हाथरस:सत्य-असत्य तय करती मीडिया, पुलिस और सरकार

राहुल बोले कि किसान जान दे देगा, लेकिन अपने हक के लिए लड़ाई लड़ेगा. इस सिस्टम में कमी है, मंडियां बढ़ाना जरूरी है लेकिन मोदी तो इस सिस्टम को ही खत्म कर रहे हैं. अगर मंडी खत्म होगी, तो किसान क्या करेगा.राहुल ने कहा कि आज जवान बॉर्डर पर खड़ा है, लेकिन मोदीजी 8000 करोड़ के विमान खरीद रहे हैं. राहुल बोले कि कांग्रेस अपने स्टैंड से पीछे नहीं हटेगी. जैसे ही हमारी सरकार आएगी, तुरंत हम इन तीनों कानूनों को फाड़ कर फेंक देंगे.

गौरतलब है कि केंद्र सरकार के द्वारा लाए गए किसान बिल का देश भर में विरोध हो रहा है. पंजाब और हरियाणा के किसान इसे लेकर लगातार आंदोलन का रूख अपनाए हुए सड़कों और रेल की पटरी पर उतरे हुए हैं.

Share.