अब कौन बनेगा राहुल का सारथी ?

0

राजस्थान की कमान मिलते ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अब दिल्ली छोड़ देंगे। गहलोत के सीएम बनते ही कांग्रेस में नए राष्ट्रीय महासचिव की तलाश शुरू हो गई है। वहीं सवाल खड़ा हो गया है कि राहुल गांधी का सारथी (Who Will Become The Charioteer Of Rahul Gandhi?) अब कौन बनेगा।पार्टी की कमान मिलते ही राहुल गांधी ने संगठन में बड़े स्तर पर बदलाव किए थे। इस बदलाव के दौरान राहुल ने अशोक गहलोत को संगठन के राष्ट्रीय महासचिव का पद सौंपा था।

अशोक गहलोत राहुल के बेहद करीबी नेताओं में गिने जाते हैं। संगठन महासचिव के पद पर रहते हुए गुजरात से लेकर कर्नाटक के चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन में सुधार देखने को मिला।गहलोत ने पार्टी में राष्ट्रीय महासचिव का पद उस वक्त संभाला था, जब पार्टी की स्थिति नाजुक थी। कई राज्यों के चुनाव में मिली हार के बाद पार्टी को खड़ा करने की जिम्मेदारी राहुल ने गहलोत को दी थी। इस जिम्मेदारी के बीच गहलोत ने सबसे पहले गुजरात के चुनाव में कांग्रेस के प्रदर्शन को बेहतर करते हुए कांग्रेस में जान फूंक दी।

कर्नाटक में भाजपा से सत्ता छीनकर कांग्रेस की झोली में डालने वाले गहलोत के राजनीतिक कौशल ने उनके कद को काफी बढ़ा दिया। गहलोत ने महासचिव के पद पर रहते हुए राजस्थान, एमपी और छत्तीसगढ़ में पार्टी को जिता दिया। अब उनके सीएम बनते ही पार्टी नए राष्ट्रीय महासचिव की तलाश कर रही है, जिसमें पहला नाम मुकुल वासनिक का आ रहा है। फिलहाल मुकुल वासनिक के पास पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति के प्रभार के साथ तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी की जिम्मेदारी है।

अखिलेश ने उड़ाई राहुल गांधी की नींद

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

Share.