राफेल पर कांग्रेस उठाने वाली है ये कदम…

0

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी कांग्रेस राफेल मुद्दे पर मोदी सरकार को छोड़ने नहीं वाली है। कांग्रेस अब 50 शहरों में 4 दिनों तक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भाजपा को घेरने की तैयारी में है। इन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस मोदी सरकार पर सीएजी ऑडिट के जरिये सुप्रीम कोर्ट को गुमराह करने का भी आरोप लगाएगी।

इन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के बड़े नेता मीडिया के सामने अपना पक्ष रखेंगे। पी.चिदंबरम, अभिषेक मनु सिंघवी, कपिल सिब्बल, आनंद शर्मा और भूपेंद्र सिंह हुड्डा जैसे दिग्गज नेताओं से लेकर जयवीर शेरगिल और प्रियंका चतुर्वेदी भी चार दिनों तक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र सरकार को राफेल डील पर घेरेंगे।

बता दें कि इससे पहले भाजपा के केंद्रीय मंत्रियों और मुख्यमंत्रियों ने देश के 70 शहरों में राफेल डील पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा नेताओं ने कांग्रेस पर राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ करने के साथ ही बड़ी साजिश करने का आरोप लगाया था। प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा ने सवाल उठाया था कि क्या राहुल गांधी सुप्रीम कोर्ट से भी ऊपर हैं, जो उसके आदेश को भी नहीं मान रहे हैं।

वहीं सोमवार को सीएजी ने पब्लिक अकाउंट्स कमेटी को राफेल मामले में नई रिपोर्ट सौंपी थी, जिसके बाद कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के नेतृत्व में पब्लिक अकाउंट्स कमेटी इस रिपोर्ट की समीक्षा करेगी। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट से क्लीन चिट मिलने के बाद कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि सीएजी ने पब्लिक अकाउंट्स कमेटी को राफेल की कीमतों से जुड़ी कोई रिपोर्ट सौंपी नहीं है। इसके बाद केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को एक एफिडेविट दिया था और रिपोर्ट में तथ्यात्मक सुधार करने की मांग की थी।

Talented View: राफेल भुलाकर देश के बारे में सोचें

राफेल पर कुछ ऐसा कह गए जेटली

राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

Share.