धोखेबाज पायलट को कम उम्र में बहुत कुछ दिया-अशोक गहलोत

0

 राजस्थान की सियासी जंग को फिलहाल जीत चुके मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बार फिर सचिन पायलट पर हमला किया है. अशोक गहलोत ने कहा कि सचिन पायलट ने कांग्रेस की पीठ में छुरा घोंपने का काम किया है, उन्हें काफी कम उम्र में बहुत कुछ मिल गया था. सीएम ने कहा कि उन्हें पता था कि सचिन पायलट नाकारा थे. अशोक गहलोत ने कहा कि हमने कभी सचिन पायलट पर सवाल नहीं किया, सात साल के अंदर एक राजस्थान ही ऐसा राज्य है जहां प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को बदलने की मांग नहीं की गई.

हम जानते थे कि वो निकम्मे थे, नाकारा थे लेकिन मैं यहां बैंगन बेचने नहीं आया हूं, मुख्यमंत्री बनकर आया हूं. हम नहीं चाहते हैं कि उनके खिलाफ कोई कुछ बोले, सभी ने उनको सम्मान दिया है.

राम मंदिर की बैठक LIVE : 5 अगस्त को भूमि पूजन सम्भव

गहलोत का बीजेपी पर फंडिंग का आरोप

पूर्व डिप्टी सीएम पर सीएम गहलोत ने आरोप लगाया कि ये जो खेल अभी हुआ है, वो दस मार्च को होना था. 10 मार्च को मानेसर गाड़ी रवाना हुई थी, लेकिन तब हमने उस मामले को सभी के सामने लाए. अशोक गहलोत ने कहा कि वो कांग्रेस का अध्यक्ष बनना चाहते थे, बड़े-बड़े कॉरपोरेट उनकी फंडिंग कर रहे हैं. बीजेपी की ओर से फंडिंग की जा रही है, लेकिन हमने सारी साजिश फेल कर दी.

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहा कि आज देश में गुंडागर्दी हो रही है, मनमर्जी के हिसाब से छापे मारे जा रहे हैं. मुझे दो दिन पहले ही पता लग गया था कि मेरे करीबियों के छापे पड़ेंगे. अशोक गहलोत ने दावा किया कि आज सचिन पायलट के समर्थन में जितने वकील केस लड़ रहे हैं, सभी महंगी फीस वाले हैं तो उनका पैसा कहां से आ रहा है. क्या सचिन पायलट सभी पैसा दे रहे हैं?

रेलवे निजीकरण: 2023 में 12 निजी ट्रेनें पटरी पर, यह है आगे की योजना

अशोक गहलोत ने कहा कि पायलट साहब गाड़ी चलाकर खुद दिल्ली जाते थे, छुपकर जाते थे. हमने सचिन पायलट की साजिश का पर्दाफाश किया, बीजेपी इसके पीछे खेल रही है. जो विधायक हमारे यहां पर रुके हैं, उनको कोई छूट नहीं है. लेकिन मानेसर में विधायकों के मोबाइल छीन लिए गए हैं, विधायक रो रहे हैं.

लोकसभा में निकली इन पदों के लिए वेकेंसी, ऐसे करें आवेदन

Share.