यहां हैकर्स ने उड़ा रखी है पुलिस की नींद

0

तेज़ी से बदलती इस दुनिया में आज स्मार्टफोन, लैपटॉप और इंटरनेट हर किसी पहुंच में है। आधुनिक दुनिया में कोई भी इनसे अछूता नहीं है और ये सभी चीज़ें जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन गई हैं। इंटरनेट के इस्तेमाल में यदि सावधानी न बरती जाए तो यह हमारे लिए मुसीबत का कारण भी बन सकती है। आज के दौर में जहां ऑनलाइन शॉपिंग और ऑनलाइन पेमेंट का चलन चल पड़ा है, वहीं ऑनलाइन फ्रॉड और धोखाधड़ी भी बढ़ गई हैं। इसी तरह के कई मामले उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में देखने को मिले हैं। ऑनलाइन होने वाली ठगी के मामले देहरादून में काफी बढ़ गए हैं।

ऑनलाइन होने वाली ठगी के मामले में साइबर पुलिस और आईटी एक्सपर्ट भी कुछ नहीं कर पा रहे हैं। इन ठगों को ठगी करने से रोकने में साइबर पुलिस और आईटी एक्सपर्ट भी नाकामयाब हैं। यदि आपके पास किसी जान-पहचान वाले या किसी दोस्त का फोन, पैसों की मदद के लिए आए तो आप सावधान हो जाएं। यह कॉल किसी हैकर्स की कोई नई चाल भी हो सकती है। ठगी करने वाले ये हैकर्स टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर आपके मोबाइल में सेव नंबर से आपको फोन कर आर्थिक मदद मांग सकते हैं।

ऑनलाइन ठगी के मामलों में उत्तराखंड साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च सेंटर के डायरेक्टर दुर्गेश पंत ने कहा कि मोबाइल और इंटरनेट के जरिये होने वाली ठगी को रोकना फिलहाल पुलिस और कंप्यूटर साइंस के लिए भी एक बहुत बड़ी चुनौती बन गया है। ऑनलाइन एप स्टोर्स पर और इंटरनेट पर ऐसे हजारों एप हैं, जिससे इस प्रकार की ठगी आसानी से की जा सकती है। इनसे बचाव के लिए लोगों को जागरूक होना पड़ेगा। बिना जागरूकता के ऐसी ठगी का शिकार होना बेहद ही आसान होता है। जब कभी भी आपको कॉल या मेल आए तो सबसे पहले फोन या ईमेल करने वाले के बारे में पूरी जानकारी जुटा लें। इसके बाद ही कोई निर्णय लें।

सावधान ! सुरक्षित नहीं आधार कार्ड, हैकर्स ने डेटा किया हैक

हैकर्स ने शाहिद के अकाउंट पर लिखा ‘आई लव यू कटरीना कैफ’

हैकर्स ने चुराए लाखों डॉलर

Share.