Video: घेराव पड़ा भारी, पुलिस ने की लातों और जूतों से पिटाई

0

देश के अलग-अलग राज्यों में एससी-एसटी यानी एट्रोसिटी एक्ट को लेकर विरोध बढ़ता ही जा रहा है| ख़ासकर मध्यप्रदेश में इस एक्ट का विरोध बहुत तेज़ी से बढ़ रहा है| गुरुवार को सवर्ण समाज द्वारा मंत्री रामपाल के बंगले का घेराव करना धर्मेंद्र शर्मा के लिए भारी पड़ गया| पुलिस ने धर्मेंद्र शर्मा व अन्य प्रदर्शनकारियों की लातों और जूतों से जमकर पिटाई की|  

पहले सवर्ण समाज के लोग सीएम हाउस का घेराव करने निकले थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें पहले ही घेर लिया| इससे गुस्साए लोगों ने मंत्री रामपाल के बंगले और भाजपा-कांग्रेस दफ़्तर के सामने प्रदर्शन कर अपना गुस्सा निकाला| इन लोगों ने काले झंडे लहराए| पुलिस ने लात-घूंसे बरसाकर उन्हें खदेड़ा|

कांग्रेस दफ़्तर पर प्रदर्शन के दौरान सवर्ण समाज के लोगों की पुलिस से धक्का-मुक्की भी हुई| पुलिस ने उन्हें वहीं रोक दिया| इसलिए प्रदर्शनकारी सीएम हाउस तक नहीं पहुंच पाए| पुलिस ने जैसे ही इन्हें रोका प्रदर्शनकारियों ने मंत्री रामपाल के घर में घुसने की कोशिश शुरू कर दी| इस पर पुलिस ने उनकी जमकर पिटाई कर दी| बाद में  कुछ प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया|

इससे पहले बुधवार को इंदौर में सपाक्स ने लोकसभा स्पीकर और सांसद सुमित्रा महाजन के मनीषपुरी स्थित घर को घेरने का प्रयास किया| हालांकि प्रदर्शनकारियों को ताई के घर के पूर्व ही रोक लिया गया| इस दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच बहस भी हुई|

विकास अवस्थी, लालजी तिवारी व अन्य के नेतृत्व में जब सवर्ण समाज के लोग ताई के घर पहुंच रहे थे तो पहले ही पुलिस ने बेरिकैडस लगाकर प्रदर्शनकारियों को रोक दिया| इस दौरान प्रदर्शनकारियों और पुलिस व सांसद प्रतिनिधि की बहस हुई| वहीं पुलिस पर यह भी आरोप लगाया गया कि प्रदर्शनकारियों पर बल  प्रयोग किया गया, जिससे एक कार्यकर्ता चोटिल हो गया|

एट्रोसिटी एक्ट का विरोध, राजधानी में सड़क पर उतरा सवर्ण समाज

ST/SC एक्ट को लेकर सीएम शिवराज पर लगा बदसलूकी का आरोप

एससी-एसटी एक्ट पर भगवान के गलत फ़ैसले!

Share.