बिम्सटेक सम्मेलन में शामिल होने नेपाल पहुंचे पीएम मोदी

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय यात्रा पर नेपाल के लिए रवाना हो गए हैं। वे यहां होने वाले 14वीं बिमस्टेक समिट में शामिल होंगे। पीएम मोदी यहां ‘बे ऑफ बंगाल इनिशिएटिव फॉर सेक्टोरल टेक्निकल एंड इकॉनोमिक को-ऑपरेशन’ के चौथे सम्मेलन में शामिल होंगे। यह सम्मेलन नेपाल के काठमांडू में आयोजित किया जा रहा है। इस समिट में आतंकवाद, सुरक्षा के विविध आयाम, ड्रग्स तस्करी, साइबर क्राइम और कारोबार सहित तमाम मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। समिट का समापन 31 अगस्त को होगा।

पीएम नरेंद्र मोदी ने नेपाल रवाना होने से पहले कहा कि शिखर बैठक के दौरान बंगाल की खाड़ी बहुक्षेत्रीय तकनीकी एवं आर्थिक सहयोग पहल (बिम्सटेक) देशों के नेताओं के साथ क्षेत्रीय सहयोग को मजबूत बनाने, कारोबार, शांतिपूर्ण, खाड़ी क्षेत्र में निर्माण में सामूहिक प्रयासों को बढ़ाने के बारे में चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि उन्हें पूरा यकीन है कि चौथा बिमस्टेक समिट  इस समूह के तहत हुई प्रगति को आगे बढ़ाएगा और शांतिपूर्ण एवं समृद्ध बंगाल की खाड़ी के निर्माण करेगा। उन्होंने कहा कि बिम्स्टेक शिखर सम्मेलन के इतर बांग्लादेश, म्यांमार,श्रीलंका,भूटान और थाईलैंड के नेताओं से बातचीत करेंगे।

गोवा में हुई थी पिछला बिम्सटेक समिट

पिछला बिमस्टेक समिट 2016 में गोवा में हुआ था। उस दौरान बिम्सटेक आउटरिच सम्मेलन में जारी घोषणा-पत्र में आतंकवाद से मुकाबले पर विचार-विमर्श हुआ था। बैठक में जोर दिया गया था कि आतंकवादी गतिविधियों को किसी भी तरह से जायज नहीं ठहराया जा सकता।

क्या है बिम्सटेक ?

बिम्सटेक, जिसका पूरा नाम बंगाल की खाड़ी बहुक्षेत्रीय तकनीकी और आर्थिक सहयोग उपक्रम है। इसकी स्थापना वर्ष 1997 में हुई थी। यह बंगाल की खाड़ी से तटवर्ती या समीपी देशों का एक अंतरराष्ट्रीय आर्थिक सहयोग संगठन है। बिम्सटेक में सात देश बांग्लादेश, भूटान, भारत, म्यांमार, नेपाल, श्रीलंका और थाइलैंड शामिल हैं। इस समूह में शामिल देशों की कुल जीडीपी 2500 अरब डॉलर है।

Share.