Sedition Case : राजद्रोह मामले में पाटीदार नेता को झटका

0

गुजरात की एक स्थानीय अदालत के फैसले से पाटीदार नेता अल्पेश कथीरिया (Alpesh Kathiriya) को बड़ा झटका लगा है| पाटीदार नेता अल्पेश कथीरिया के खिलाफ 2015 में राजद्रोह का मामला दर्ज किया गया था| सूरत के राजद्रोह मामले कथिरिया को नवम्बर में जमानत दी गई थी| अल्पेश कथिरिया को मिली जमानत रद्द होने बाद पाटीदार समुदाय में फिर से एक बार बवंडर खड़ा होने आशंका दिखाई दे रही है|

जानकारी के अनुसार, प्रमुख जिला एवं सत्र न्यायाधीश आरके देसाई की अदालत ने सरकार की यह दलील स्वीकार कर ली कि कथीरिया ने जमानत की शर्तों का उल्लंघन किया है| कोर्ट ने डेढ़ महीने पहले Alpesh Kathiriya को सशर्त जमानत दी थी| अब पुलिस अल्पेश को ढूंढ रही है|

गौरतलब है कि अभिषेक के खिलाफ 6 मामले दर्ज है| जमानत पर छूटने के बाद Alpesh Kathiriya ने कई जगह हंगामा किया था| हंगामे के कारण ही पुलिस ने कोर्ट से उनकी जमानत रद्द करने की मांग की थी|  31 दिसम्बर को सूरत पुलिस ने राजद्रोह मामले में जमानत रद्द करने की याचिका दायर की थी| कथिरिया की जमानत याचिका दाखिल करते हुए सूरत पुलिस ने कानून-व्यवस्था के उल्लंघन और शहर की शांति को भंग करने के आरोप कथिरिया पर लगाए थे| इसके अलावा पुलिस ने भीड़ और सामुदायिक उकसावे के कारण भी दिए थे|अब कहा जा रहा है कि अल्पेश सरेंडर करने की बजाय हाईकोर्ट में अपील करेंगे|

सूरत के वराछा में ट्रैफिक ब्रिगेड के कर्मचारियों के साथ अल्पेश कथिरिया का बाइक पार्क मामले को लेकर विवाद था| विवाद अंततः पुलिस स्टेशन तक पहुंच गया|  पुलिस स्टेशन में लॉक-अप के अंदर कथिरिया द्वारा पुलिस अधिकारियों को गालियां देने एवं अभद्र भाषा में धमकाने की वीडियो क्लिप भी वायरल हुई थी| – रंजीता

विश्वबैंक की अध्यक्ष हो सकती है यह भारतवंशी महिला

पुलिस की चुस्ती से दो दिन में आरोपी गिरफ़्तार

कल गिर जाएगी कर्नाटक सरकार!

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

 

Share.