शीतकालीन सत्र : हंगामे की भेंट चढ़ा शून्यकाल ?

0

राज्यसभा में  शीतकालीन सत्र  के दौरान आज का दिन(Parliament Winter Session Day 6) यानी मंगलवार फिर हंगामे की भेंट चढ़ गया| दरअसल, राफेल विमान सौदा, कावेरी डेल्टा के किसानों की समस्याओं और आंध्रप्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग जैसे मुद्दों को विपक्ष द्वारा प्राथमिकता से उठाया गया| हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही शुरू होने के कुछ ही देर बाद दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई|

शीतकालीन सत्र में मंगलवार को हंगामे के कारण शून्यकाल और प्रश्नकाल नहीं चल पाया| विपक्ष के नेता गुलाम नबी आज़ाद ने राफेल विमान सौदे का मुद्दा उठाया और सरकार पर उच्चतम न्यायालय और संसद को गुमराह करने का आरोप लगाया| उन्होंने कहा, “पूरा देश सच जानना चाहता है| हम कई मुद्दों पर चर्चा करना चाहते हैं| कार्य मंत्रणा समिति में सहमति भी बनी थी, हमने विशेषाधिकार हनन का नोटिस भी दिया है|”

वहीं संसदीय कार्य राज्यमंत्री विजय गोयल ने कहा, “विपक्ष लगातार हंगामा कर रहा है जबकि सरकार हर मुद्दे पर चर्चा करने के लिए तैयार है| कांग्रेस को अदालतों से हाल ही में दो-दो बड़े झटके लगे हैं और दोनों मुद्दों पर कांग्रेस को माफी मांगनी चाहिए|” सभापति एम वेंकैया नायडू ने सदस्यों से अपील की कि वे सदन में शांति बनाए रखें और कार्यवाही चलने दें| इसके बाद हंगामे के कारण बैठक दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई|

शीतकालीन सत्र में कांग्रेस का राफेल आलाप

शीतकालीन सत्र में इन मुद्दों पर होगी चर्चा

शीतकालीन सत्र में सरकार पास करवाएगी प्रस्ताव

Share.