पाक प्रधानमंत्री की भारत को चेतावनी

0

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शनिवार को हुई मुठभेड़ के बाद नागरिकों द्वारा भारतीय सेना पर पथराव किया गया। इस पथराव से बचने के लिए सेना को रक्षात्मक फायरिंग करनी पड़ी। सेना द्वारा की गई इस फायरिंग में 7 नागरिकों की मौत हो गई। नागरिकों की मौत पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्विटर पर अपनी नाराज़गी जताई है। नागरिकों की मौत की निंदा करते हुए पाक प्रधानमंत्री ने इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र तक ले जाने की धमकी दी है।

खान ने कहा कि इस मुद्दे का हल केवल और केवल बातचीत है न कि हिंसा। चेतावनी देते हुए खान ने कहा कि पाकिस्तान इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र के समक्ष उठाएगा और मांग करेगा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद जम्मू कश्मीर पर अपने जनमत-संग्रह की प्रतिबद्धता को पूरा करे।

खान के बाद पाक विदेश मंत्रालय ने भी इस मामले में अपनी नाराज़गी जताई है। विदेश मंत्रालय ने निंदा करते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर माना हुआ विवाद है, जो संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का लंबित एजेंडा है। भारत का इस हकीकत से अलग होना बेहद ही चौंकाने वाली बात है।

गौरतलब है कि भारतीय सेना ने इस मुठभेड़ में हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर जहूर ठोकर सहित तीन आतंकियों को ढेर कर दिया था। ठोकर के मुठभेड़ में फंसे होने के बारे में जब इलाके के नागरिकों को खबर मिली, तब लोगों ने मुठभेड़ स्थल पर जुटना शुरू कर दिया। ठोकर इसी गांव का था और लोग उसे बचाने का प्रयास कर रहे थे। लगभग 25 मिनट तक चली इस मुठभेड़ में सेना ने तीनों आतंकियों को मार गिराया। सेना की इस कार्रवाई के बाद इलाके के युवाओं ने सुरक्षाबलों पर पथराव शुरू कर दिया। इस दौरान सुरक्षाबलों की तरफ से की गई रक्षात्मक फायरिंग में सात लोगों की मौत हो गई थी।

पीएम मोदी हैं मुसलमान विरोधी – इमरान खान

करतारपुर कॉरिडोर को लेकर इमरान खान का विरोध

मोदी से बातचीत करना चाहता हूं – इमरान खान

Share.