पाकिस्तान दूसरों की जंग नहीं लड़ेगा – इमरान खान

2

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस्लामाबाद में रक्षा दिवस समारोह पर कहा कि पाकिस्तान ने कभी नहीं चाहा कि वह किसी और की लड़ाई लड़े। उन्होंने कहा कि मैं वादा करता हूं कि हम अब कभी किसी और की लड़ाई नहीं लड़ेंगे। पीएम इमरान खान ने कहा कि हमारा लक्ष्य सबके साथ खड़े रहना है। हम लोगों के लिए काम करेंगे। हमारी सरकार की नीति देश के सर्वोच्च हित में होगी।

आतंकवाद के खिलाफ बोलते हुए इमरान ने कहा कि मैं शुरुआत से ही युद्ध के खिलाफ रहा हूं। हम किसी अन्य देश की लड़ाई का हिस्सा नहीं बनेंगे। हालांकि इमरान ने आतंकवाद के खिलाफ जोरदार मुकाबला करने के लिए पाकिस्तानी सेना की तारीफ की। उन्होंने कहा, पाकिस्तानी सेना की तरह किसी भी देश ने आतंकवाद के खिलाफ ऐसी लड़ाई नहीं लड़ी है। देश की सुरक्षा और खुफिया एजेंसी का योगदान अच्छा रहा है।

पाकिस्तान आर्मी चीफ जनरल का विवादित बयान

पाक आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि सरहद पर जो लहू बह चुका है और जो बह रहा है, सभी का हिसाब लेंगे। बाजवा ने कहा कि हमने 1965 और 1971 की जंग से बहुत कुछ सीखा है और अपनी रक्षा के लिए परमाणु हथियारों को विकसित किया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने आतंकवाद के खिलाफ जंग की बहुत बड़ी कीमत चुकाई है।

काम आई हग डिप्लोमेसी

पाकिस्तान में नवजोतसिंह सिद्धू की हग डिप्लोमेसी का बड़ा असर हुआ है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पाकिस्तान में करतारपुर साहिब कॉरिडोर भारत के लिए खोलने के लिए तैयार हैं। पाकिस्तान ने गुरुनानक देव की 550वीं पुण्यतिथि पर कॉरिडोर खोलने का फैसला किया है। करतारपुर कॉरिडोर खुलने से भारतीय श्रद्धालु पाकिस्तान के करतारपुर साहिब में दर्शन के लिए जा सकेंगे। इसके लिए वीज़ा की ज़रूरत भी नहीं होगी। भारत और पाकिस्तान के करतारपुर के बीच महज तीन किलोमीटर की दूरी है। इस दूरी को पास करने के लिए श्रद्धालुओं को काफी मशक्कत करनी पड़ती है।

Share.