मोदी से बातचीत करना चाहता हूं – इमरान खान

0

आर्थिक समस्या से ग्रस्त पाकिस्तान के तेवर नरम होते जा रहे हैं। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत करना चाहते हैं। इमरान ने कहा कि मैं पीएम मोदी से बातचीत करना चाहता हूं। इमरान ने स्वीकार किया कि आतंकवाद के लिए पाकिस्तान की ज़मीन का इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लंबे समय से अन्य देशों की नज़र में पाकिस्तान की छवि आतंकवाद को पनाह देने वाले देश के रूप में बनी हुई है।

दोस्ती का हाथ

पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने शांति वार्ता की कोशिशों के बीच भारत की ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाया है। इमरान ने आतंकवाद और बातचीत एक साथ नहीं होने के भारत के फैसले का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि सीमा पर आतंक फैलाने वालों को आश्रय नहीं देने के लिए पाकिस्तान को ठोस कदम उठाने होंगे।

संबंध सुधारना चाहते हैं

इमरान खान ने कहा कि पाकिस्तान के लोग भी भारत के साथ संबंध सुधारना चाहते हैं। यहां के लोगों की सोच में काफी बदलाव आया है। मुझे भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात और बातचीत करके खुशी होगी। कश्मीर मुद्दे पर इमरान ने कहा कि कुछ भी नामुमकिन नहीं। मैं किसी भी मुद्दे पर बात करने के लिए तैयार हूं।

शांति के लिए पहल

उन्होंने कहा कि सेना की मदद से कश्मीर मुद्दा नहीं सुलझाया जा सकता। शांति के लिए दोनों देशों को करनी होगी। इमरान के कहा कि हम भारत में आम चुनाव खत्म होने का इंतज़ार करेंगे। वहीं हाफिज सईद को सज़ा देने के सवाल पर इमरान के कहा कि हाफिज पर संयुक्त राष्ट्र ने प्रतिबंध लगा रखा है, जिससे उस पर काफी दबाव है।

सिद्धू : पीएम इमरान खान का कर्जदार हूं

पाकिस्तान दूसरों की जंग नहीं लड़ेगा – इमरान खान

हेलिकॉप्टर से घर जाते हैं इमरान खान

Share.