करतारपुर कॉरिडोर को लेकर इमरान खान का विरोध

2

पाकिस्तान स्थित करतारपुर साहिब गुरुद्वारा से जोड़ने वाली करतारपुर कॉरिडोर के निर्माण को लेकर विवाद बढ़ते ही जा रहा है| पहले भारत में इसे लेकर कई सवाल उठाए गए थे और अब पाकिस्तान में इसे लेकर विरोध किया जा रहा है| दरअसल, कॉरिडोर के निर्माण को हरी झंडी देने वाले पाकिस्तान के प्रधानममंत्री इमरान खान का विरोध किया जा रहा है|

पाकिस्तान में इमरान खान का विरोध

पंजाब के गुरदासपुर जिला स्थित सीमा क्षेत्र को पाकिस्तान स्थित करतारपुर साहिब गुरुद्वारा से जोड़ने वाली करतारपुर कॉरिडोर के लिए पाकिस्तान में इमरान खान का विरोध किया जा रहा है| इस बारे में जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम-एफ के प्रमुख मौलाना फजलुर्रहमान ने कहा कि पीएम इमरान खान ने संसद को विश्वास में लिए बिना ही भारत के साथ करतारपुर कॉरिडोर को खोलने को हरी झंडी दी है|

रहमान ने आगे कहा, “भारत-पाकिस्तान के साथ जुड़े रूट को बंद कर रहा था, लेकिन तहरीक-ए-इंसाफ सरकार भारत के नागरिकों को पाकिस्तान आने के लिए एकतरफा कदम उठा रही थी| करतारपुर कॉरिडोर को उनके (इमरान खान) विदेशी मालिकों को खुश करने के लिए खोला गया, खासकर अल्पसंख्यक समूहों को खुश करने के लिए| पाकिस्तान को इस एकतरफा कदम की कीमत चुकानी पड़ेगी| सरकार को यह कदम उठाने से पहले संसद को अपने विश्वास में लेना चाहिए था| पिछली सरकार ने चीन सरकार के साथ सीपीईसी सहमति पर हस्ताक्षर करने के लिए संसद को विश्वास में लिया था| पूर्व प्रधानमंत्री ने भारत के प्रधानमंत्री को सिर्फ निमंत्रण दिया था, इस वजह से उन्हें गद्दार कहा गया था, जबकि वर्तमान प्रधानमंत्री ने भारत को कॉरिडोर की सुविधा उपलब्ध करवा दी|”

करतारपुर कॉरिडोर को लेकर छिड़ी जुबानी जंग

सिद्धू को गिरफ्तार किया जाए : सुब्रह्मण्यम

पाकिस्तान दूसरों की जंग नहीं लड़ेगा – इमरान खान

Share.