OMG: चपरासी की नौकरी के लिए 3700 PhD धारकों का आवेदन

0

देश में बेरोजगारों की कमी नहीं है| सरकार रोजगार देने के कितने भी वादें कर ले, लेकिन बेरोजगारी के आंकड़े लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं| नौकरी के लिए लोगों में इस कदर होड़ मची है कि पीएचडी, एमबीए और बीटेक डिग्री धारक भी चपरासी की नौकरी पाने के लिए कतार में लगे गुए हैं| जैसे-जैसे देश के साक्षरता का स्तर बढ़ते जा रहा है, वैसे-वैसे बेरोजगारी का स्तर भी आसमान छूते जा रहा है| हाल ही में उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग ने चपरासी के 62 रिक्त पदों के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे, जिसके लिए 3700 पीएचडी धारकों ने भी आवेदन किया है|

इस भर्ती के लिए न्यूनतम योग्यता कक्षा पांचवीं रखी गई थी, लेकिन जब आवेदन पत्र देखे गए तो अधिकारी भी चौंक गए| मात्र 62 रिक्त पदों के लिए 93,000 से ज्यादा लोगों ने आवेदन किया है| जिसमें 50 हजार ग्रेजुएट, 28 हजार पोस्ट ग्रेजुएट्स और डॉक्टरेट के उम्मीदवार भी शामिल हैं| आवेदनकर्ताओं में से केवल 7400 उम्मीदवार ऐसे हैं जो केवल पांचवी उत्तीर्ण हैं|

दरअसल, उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग में लगभग 12 साल से चपरासी के 62 पद खाली पड़े हैं| इनके लिए आवेदन आमंत्रित किए गए थे| भर्ती के चयनित होने वाले उम्मीदवारों का काम डाकिये के जैसे पुलिस टेलिकॉम डिपार्टमेंट से पत्र और डॉक्यूमेंट एक ऑफिस से दूसरे ऑफिस पहुंचाना होगा| इस काम के लिए भी पढ़े लिखे लोगों ने आवेदन किया है|

 

Share.