स्वच्छता में नंबर वन शहर पर तमाचा

2

सफाई में दो बार सर्वश्रेष्ठ शहर का तमगा हासिल कर चुके इंदौर में बीमारियों का क़हर बढ़ते जा रहा है| शहर की सफाई और सफाई के लिए उपयोग की जाने वाली तकनीकों की चर्चा देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी है, लेकिन फिर भी शहर बीमारियों की चपेट आने से नहीं बच पाया| दरअसल, ठण्ड बढ़ने के साथ-साथ बीमारियां भी बढ़ती जा रही हैं|

जानकारी के अनुसार, सफाई में हैटट्रिक के लिए जी-जान लगाने वाले शहर में डेंगू और स्वाइन फ्लू के मरीजों की मौतों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है| आज इसी गंभीर बीमारी ने एक नामी बिल्डर को भी मौत के मुंह में पहुंचा दिया| यशराज इन्फ्रास्ट्रक्चर के राजेश गुप्ता कई दिनों से बॉम्बे अस्पताल में भर्ती थे, उन्हें स्वाइन फ्लू हुआ था| आज यानी मंगलवार को इलाज के दौरान उनका निधन हो गया|

गौरतलब है कि शहर में ठिठुरन के साथ स्वाइन फ्लू के लक्षणों वाले मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है| आईडीएसपी से मिली जानकारी के अनुसार, अब तक 23 मरीजों में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हो चुकी है| वहीं नौ मरीजों की मौत हो चुकी है| मरीजों के आंकड़े बढ़ते ही जा रहे हैं| सोमवार को सात संदिग्ध मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए, जिनका इलाज किया जा रहा है| इसके पहले दस मरीजों के सैंपल भेजे गए थे, जिनकी रिपोर्ट अब तक नहीं मिली|

इंदौर : बहन के कमरे का दरवाजा खोलते ही…

भय्यू महाराज की आत्महत्या मामले में नया बवाल

आयुष्मान भारत योजना : प्रथम सर्जरी संपन्न

Share.