अब इस देश में जाने के लिए विशेष परमिट ज़रूरी नहीं  

0

भारत और म्यांमार ने अब एक-दूसरे के लिए बिना किसी प्रतिबंध के द्वार खोल दिए हैं| मणिपुर की सीमा से लगे मोरे शहर से दोनों देशों के बीच के प्रतिबंध को हटा दिया गया है| अब सीमा खुलने के बाद म्यांमार जाने के लिए या म्यांमार से भारत आने के लिए किसी विशेष परमिट की ज़रूरत नहीं होगी| दरअसल, इस संबंध में म्यांमार के तामू में एक कार्यक्रम का आयोजन करवाया गया, जिसमें दोनों देशों के बीच की सीमा को खोल दिया गया|

दोनों देशों के बीच हुए इस फैसले को सकारात्मक शुरुआत के तौर पर देखा जा रहा है| गौरतलब है कि इस संबंध में भारत की ओर से 11 मई को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दोनों देशों के मध्य हुए समझौते पर हस्ताक्षर किए थे| बुधवार को ही तामू-मोरेह सीमा के अलावा भारत म्यांमार सीमा से लगे रिखावदार (चिन प्रांत) और जोखावतार (मिजोरम) की भी सीमा खोल दी गई| मोदी सरकार की एक्ट ईस्ट पॉलिसी के तहत दोनों देशों की सीमा का खोला जाना एक अहम समझौता माना जा रहा है|

दरअसल, इस करार के अनुसार दोनों देशों के नागरिक बिना किसी विशेष परमिट के एक दूसरे की सीमा में 16 किमी तक जा सकेंगे| इसके पहले ही दोनों के बीच रोड संपर्क मे सुधार उल्लेखनीय है कि भारत और म्यांमार ने पहले ही दोनों देशों के बीच रोड संपर्क में सुधार के लिए कई कार्य चल रहे हैं|

गौरतलब है कि भारत-म्यांमार-थाईलैंड त्रिपक्षीय अंतरराष्ट्रीय राजमार्ग पर तीनों देश मिलकर निर्माण का कार्य करवा रहे हैं| 1400 किलोमीटर लंबे इस अंतरराष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण वर्ष 2019 तक पूरा होने की संभावना जताई जा रही है|

Share.