तेजस्वी अर्जुन और मैं हूं कृष्ण : तेजप्रताप

0

राजद सुप्रीमो लालूप्रसाद यादव के लाल यानी तेजप्रताप पिछले कई दिनों से अपनी शादी टूटने को लेकर चर्चा में बने हुए हैं| अब उन्होंने एक ट्वीट कर उन लोगों पर निशाना साधा है, जो कयास लगा रहे थे कि तेज अकेले पार्टी की कमान संभालना चाह रहे हैं| तेज का कहना है कि लोग दोनों भाइयों के बीच दरार डालना चाहते हैं, लेकिन कोई भी इसमें सफल नहीं हो पाएगा|

धोती-कुर्ता पहने विधानसभा पहुंचे तेजप्रताप

तेजप्रताप ने ट्वीट किया, “लोगों के मुद्दे छोड़ कुर्सी पर बैठे अपने आकाओं के इशारे पर भाई-भाई में दरार की मनगढ़ंत कहानियां चलाने वाले चंद लोग कान खोलकर सुन लें| मेरी लड़ाई किसान, महिला और नौजवानों को ठगने वाली जनविरोधी सरकार से है और इनके खिलाफ जंग लडूंगा और इन्हें परास्त भी करूंगा| रोक सको, तो रोक लो…|”

वहीं पटना स्थित मुख्यालय पर जनता दरबार में तेजप्रताप यादव ने कहा कि उन्हें छोटे भाई तेजस्वी यादव के जनता दरबार में आने से बेहद खुशी होगी| उन्होंने कहा, “मैंने सार्वजनिक तौर पर अपनी प्रतिबद्धता बहुत पहले जताई थी| मैंने महाभारत का प्रसंग भी दिया था| मैंने बार-बार कहा भी है कि तेजस्वी अर्जुन हैं और मैं कृष्ण की भूमिका निभाऊंगा| मैं उसका पथ प्रदर्शन करूंगा| कुछ लोग भाइयों के बीच दीवार खड़ी करना चाहते हैं|”

तलाक पर नहीं बदला तेजप्रताप का मन…

उन्होंने 25 दिसंबर को ट्वीट किया था, “दलित बस्ती कमला नेहरू नगर का हाल जानने जब मैं पहुंचा तो देखकर दंग रह गया| विकास पुरुष के राज में यहां न तो बिजली है न पानी| स्कूल, अस्पताल, सड़क जैसी प्राथमिक सुविधाएं भी यहां नदारद है| एक बुजुर्ग बीमार महिला का इलाज कराने के लिए मुझे स्वयं निजी अस्पताल का सहारा लेना पड़ा|”

इस वजह से तेजप्रताप ने मांगा तलाक, जानिए कारण

Share.