VIDEO : Zomato डिलीवरी ब्वॉय निकला मुस्लिम तो लौटाया खाना

0

देश में चोरी, डकैती, लूट-पाट, मारपीट, छेड़छाड़ और दुष्कर्म जैसे मामलों के साथ ही हिन्दू-मुस्लिम विवाद भी चला आ रहा है। जिस भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता है, जिसकी एकता की मिसालें दी जाती थी, उसी भारत में अंग्रेजों द्वारा बोया गया जातिवाद का बीज अब पेड़ बनते जा रहा है। हिन्दू- मुसलमान के नाम पर देश के पहले ही बंटवारे हो चुके हैं, लेकिन भी ये ज्वाला शांत नहीं हुई। समाज में दो समुदायों के बीच नफरत कितनी बढ़ती जा रही है इसकी बानगी एक बार फिर देखने को मिली। ऑनलाइन फूड (खाना) डिलीवर करने वाली वेबसाइट जोमेटो पर पंडित अमित शुक्ल (Pandit Amit Shukal ) नाम के एक शख्स खाना आर्डर करने के बाद इसीलिए कैंसिल कर दिया क्योंकि डिलीवरी ब्वॉय मुस्लिम था।

ड्रोन से होगी फूड डिलीवरी की निगरानी !

क्या है मामला (Pandit Amit Shukal Cancels Zomato Food)

Video : महिला पुलिसकर्मियों का “पतली कमर पर” tiktok ठुमका

पंडित अमित शुक्ल (Pandit Amit Shukal )  नाम के एक शख्स ने ऑनलाइन फूड (खाना) वेबसाइट जोमेटो से खाना मंगवाया। आर्डर करने के बाद उसके पास मैसेज गया, जिससे पता चला कि मुस्लिम डिलीवरी ब्वॉय उनका खाना लेकर आ रहा है तो उन्होंने जोमेटो से डिलीवरी ब्वॉय बदलने को कहा। उसमे जोमेटो से इसके लिए रिक्वेस्ट की। इसके बाद जोमेटो से डिलीवरी ब्वॉय बदलने से मना कई दिया। जोमेटो ने जब इससे इनकार कर दिया तो अमित शुक्ल ने ऑर्डर कैंसिल कर दिया और जोमेटो से रिफंड देने की मांग की, लेकिन धर्म के कारण डिलीवरी ब्वॉय बदलने की मांग को सुनकर उन्होंने रिफंड करने से भी इनकार कर दिया। इसके बाद यह विवास सोशल मीडिया पर शुरू हो गया।

अमित शुक्ल ने इस सम्बन्ध में ट्वीट किया, “ने अभी तुरंत जोमेटो पर दिया अपना ऑर्डर कैंसिल कर दिया क्योंकि वो एक गैर हिंदू को मेरा खाना लेकर भेज रहे थे और डिलीवरी ब्वॉय को भी बदलने से इनकार कर दिया। मैं ने उनसे कहा कि वो मुझ पर इस तरह खाना लेने के लिए दबाव नहीं बना सकते हैं और मुझे रिफंड की कोई जरूरत नहीं है।” इसके साथ ही उसने एक स्क्रीन शॉट भी शेयर की, जिसमे दिख रहा है कि जोमेटो की तरफ से फैय्याज नाम का डिलीवरी ब्वॉय खाना लेकर आने वाला है।

पर्यटन स्थलों पर मौत का खौफनाक मंज़र, Viral Video

इसके साथ ही उन्होंने व्हाट्स ऐप का भी स्क्रीन शॉट जारी किया। जिसमें अमित जोमेटो कंपनी से कह रहे हैं कि अभी हमारे लिए सावन चल रहा है और इसलिए हमें किसी मुस्लिम शख्स से डिलीवरी की कोई जरूरत नहीं है। इसके नीचे की चैट में जोमेटो कंपनी की तरफ से जो जवाब आया है उसमें कंपनी कह रही है कि अगर वो ऑर्डर कैंसिल करते हैं तो उन्हें कैंसिलेशन चार्ज के तौर पर 237 रुपये देने होंगे। उसने एक और स्क्रीन शॉट शेयर किया, जिसमें लिखा, “जब मैं आपत्ति दर्ज कराई तो जोमेटो ने उन्हें ब्लॉक कर दिया और अब ऐप पर पहले की ऑर्डर हिस्ट्री भी दिखाई नहीं दे रही है।” अब कहा जा रहा है पंडित अमित शुक्ल इस मामले में क़ानूनी कार्रवाई करने वाले हैं।

Share.