जगनमोहन रेड्डी ने ली आंध्र प्रदेश के सीएम पद की शपथ

0

वायएस जगनमोहन रेड्डी (जगन रेड्डी) (Jagan Mohan Reddy Oath Taking Ceremony Live ) ने आज यानी बुधवार को आंध्र प्रदेश के नए मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। विधानसभा चुनाव में भारी मतों से जीत हासिल करने वाले जगन रेड्डी ने चंद्रबाबू नायडू को हराया था। राज्यपाल ई एस एल नरसिम्हन (E. S. L. Narasimhan) ने विजयवाड़ा के पास स्थित आईजीएमसी स्टेडियम में दोपहर 12 बजकर 23 मिनट पर पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई।

PM Modi Swearing-In Oath Ceremony 2019 Live : शहीद सुदीप विश्वास का परिवार पहुंचा दिल्ली

रेड्डी की पार्टी ने विधानसभा और लोकसभा चुनावों में शानदार जीत दर्ज की। वाईएसआर कांग्रेस (YSR Congress) ने राज्य विधानसभा की 175 में से 151 सीटों पर जीत दर्ज की। वहीँ नायडू की टीडीपी 175 से 23 सीटें ही हासिल कर पाई।

Jagan Mohan Reddy Oath Taking Ceremony Live :

OMG !!! भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का इस्तीफा

वायएसआऱ कांग्रेस पार्टी के प्रमुख जगन मोहन रेड्डी (Jagan Mohan Reddy Oath Taking Ceremony Live) ने 2009 में राजनीति में कदम रखा था।  जब उन्हें राजनीति में डेब्यू किया उसी साल उनके पिता अविभाजित आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे। इसके पहले उनकी पार्टी को सोनिया गांधी की नेतृत्व वाली कांग्रेस पार्टी का समर्थन प्राप्त था लेकिन 2010 में जगन ने अपनी मां वाय एस विजयम्मा के साथ मिलकर कांग्रेस से नाता तोड़ लिया और अपनी अलग पार्टी बना ली।  इसके बाद आज वे खुद आंध्रा के मुख्यमंत्री बन चुके हैं।

नायडू को गोली मार दी जाए तो भी ठीक

आंध्रा के नए सीएम (Jagan Mohan Reddy Oath Taking Ceremony Live) ने चुनाव प्रचार के दौरान कहा था कि चंद्र बाबू नायडू ने लोगों को ठगने के साथ-साथ झूठे वादे किए हैं और ऐसे मुख्यमंत्री को गोली मार देना ही ठीक है। जनता से किए गए वादे को सीएम नायडू पूरा नहीं कर रहे हैं।  किसान, महिलाओं और बेरोजगारों से किए अपने वादों से नायडू पीछे हट रहे हैं।  वे जनता की ओर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे रहे हैं।

पीएम के शपथ ग्रहण में बंगाल के ख़ास मेहमान

जगन मोहन रेड्डी ने आगे कहा था कि सीएम नायडू जनता से वोट मांगकर उनके साथ धोखा कर रहे हैं।  रेड्डी के इस बयान के बाद चंद्रबाबू नायडू की तेलुगु देसम पार्टी (टीडीपी) के एक स्‍थानीय नेता ने जगनमोहन के खिलाफ जनप्रतिनधित्‍व एक्‍ट के तहत जाति, धर्म, भाषा, संप्रदाय के आधार पर हिंसा भड़काने का आरोप लगाते हुए पुलिस केस दर्ज कराया है।

Share.