योगी के मंत्री का दावा तोड़ेंगे मस्जिदें

0

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पार्टी एआईएमआईएम (ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन) के नेता वारिस पठान (Waris Pathan) ने हाल ही में एक विवादित बयान (Anand Swaroop Gave Proactive Statement) दिया था जिसके बाद उनकी चौतरफा आलोचनाएं हो रही हैं। वहीं वारिस के खिलाफ भड़काऊ बयान देने के लिए FIR दर्ज कर ली गई है। उनके इस भड़काऊ बयान के बाद से राजनीतिक गलियारों में उबाल आ गया है। उनके इस विवादित बयान पर पलटवार करते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला (Anand Swaroop Shukla) ने भी विवादित बयान दे डाला है। शुक्ला का यह बयान भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कहीं मुसीबतें न पैदा कर दें। वारिस के बयान के जवाब में आनंद स्वरुप शुक्ला ने कहा कि “एक भी हिन्दू अगर अपने पर आ गया तो उस दिन 15 करोड़ हिन्द महासागर और बंगाल की खाड़ी में दिखाई देंगे, ओवेसी के अब्बा भी रोक नहीं पाएंगे।” आनंद स्वरुप शुक्ला ने यह बयान वारिस पठान के उस बयान के जवाब में दिया जिसमे वारिस ने कहा था कि “15 करोड़ मुस्लिम 100 करोड़ पर भारी पड़ेंगे।”

Chief Minister Yogi Adityanath के आदेश पर 40 साल पुराना कानून बदला

बात यही ख़त्म नहीं हुई और राज्यमंत्री आनंद स्वरुप शुक्ला (Anand Swaroop Gave Proactive Statement) ने असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) को चुनौती तक दे डाली। आनंद स्वरुप शुक्ला ने कहा कि, “जब तुम और तुम्हारे अब्बा और अम्मी हज़ करने दुबई जाते हैं तो पासपोर्ट अपने जीजाओं को दिखाते हैं। ओवैसी को मैं चैलेंज देता हूं कि तुम्हारे अब्बा को भी कब्र से निकल कर कागज दिखाना पड़ेगा जो नहीं दिखायेगा उसे भारत में नहीं रहने देंगे।” उन्होंने यह बात नागरिकता संशोधन अधिनियम यानी CAA को लेकर कही। इतना ही नहीं आनंद स्वरुप ने वारिस के एक और बयान का जवाब दिया। दरअसल वारिस ने अपने एक बयान में शाहीन बाग में प्रदर्शनकारी महिलाओं को शेरनी बताया था। उनके इस बयान के जवाब में आनंद स्वरुप ने कहा कि ओवैसी जैसे लोग कायर और डरपोक हैं। उन्होंने आगे कहा कि “महज CAA जैसे कानून से डरकर अपने पूरे परिवार के साथ रोड पर आ गये हैं, तो जिस दिन हिन्दू इनके खिलाफ खड़ा हो जायेगा उस दिन ये जी नहीं पाएंगे।”

नवाब मलिक का UP के CM पर हमला

आनंद स्वरुप शुक्ला (Anand Swaroop Gave Proactive Statement) लगातार भड़काऊ भाषण देते रहे। इतना बोलने के बाद वे आगे बोले “ओवैसी परिवर्तित हिन्दू हैं। 1947 में साजिश के तहत ओवैसी (Asaduddin Owaisi) जैसे मुसलमान भारत रुक गए जो भारत को बांटकर इस्लामिक राज कायम करना चाहते थे, पर उनके मंसूबों को पूरा नहीं होने दिया जाएगा।” आगे उन्होंने कहा कि 370, तीन तलाक के बाद अब हलाला को भी खत्म किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि देश में जहां भी मंदिरों को तोड़कर मस्जिद बनाई गई थी, आने वाले समय में सभी मस्जिदों को तोड़कर मंदिर बनाया जाएगा। गौरतलब है कि राज्यमंत्री आनंद स्वरुप शुक्ला (Anand Swaroop Shukla) का यह कोई पहला भड़काऊ बयान नहीं है इससे पहले भी वे कई बार जहर उगल चुके हैं। साल 2019 के सितंबर माह में उन्होंने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के खिलाफ विवादित बयान दे डाला था। उन्होंने अपने बयान में कहा था कि, प्रियंका गांधी इमरान खान से भी जहरीली भाषा बोलती हैं और उस पार्टी से संबंध रखती हैं जो पाकिस्तान की भाषा बोलती है। अब देखना होगा कि आनंद स्वरुप का यह भड़काऊ बयान राजनीतिक गलियारों में क्या भूचाल लाता है। फिलहाल अभी ओवैसी या उनकी पार्टी की तरफ से इस पर कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आयी है न ही वारिस पठान (Waris Pathan)  ने अभी इस पर कोई टिपण्णी की है। गौरतलब है कि CAA को लेकर पूरे देश में विवाद छिड़ा हुआ है और राजधानी दिल्ली के शाहीन बाग़ में इसके विरोध में पिछले 68 दिनों से आंदोलन किया जा रहा है। फिलहाल आज शाहीन बाग़ (Shaheen Bagh) की एक सड़क को खोल दिया गया है जिससे वहां से आने जाने वाले लोगों को काफी राहत पहुंची है।

पश्चिम बंगाल में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति पर हमला

Prabhat jain

Share.