दिल्ली में बाढ़ का खतरा, क्या मचेगी तबाही?

1

दिल्ली में बाढ़ का खतरा बढ़ते ही जा रहा है| यमुना नदी का जलस्तर खतरनाक स्तर से ऊपर बहने लगा है वहीं दूसरी ओर हरियाणा ने और पानी छोड़ दिया है| आज यानी सोमवार शाम तक पानी दिल्ली पहुंच जाएगा| दिल्ली में पहले ही यमुना खतरे के निशान से करीब आधा मीटर ऊपर बह रही है और अब खतरा और बढ़ सकता है|

दरअसल, हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से 6 लाख क्यूसेक से अधिक पानी छोड़ा गया, जिसके सोमवार शाम तक दिल्ली पहुंचने की संभावना है, जिससे दिल्ली में बाढ़ का खतरा बढ़ता जा रहा है| प्रशासन की ओर से बाढ़ की चपेट में आने वाले इलाके में रहने वाले लोगों को लगातार हटाया जा रहा है| वहीं यातायात पुलिस ने भी लोहे के पुल पर दोनों ओर से यातायात को बंद कर दिया है|

दिल्ली में बाढ़ का खतरा बढ़ने के कारण 24 घंटे यमुना के जलस्तर पर नज़र रखी जा रही है| सभी संबंधित अधिकारी यमुना के जलस्तर की पल-पल की खबर रख रहे हैं| रेलवे ने भी खतरे को देखते हुए 27 ट्रेनों को कैंसल करने के साथ 7 ट्रेनों के मार्ग में परिवर्तन करने का निर्णय लिया|

कई साल पहले किए गए सर्वे में यह बात सामने आई थी कि पूर्वी दिल्ली में 2 हजार से ज्यादा लोग नदी के किनारे रहते हैं| इनमें से लगभग सभी के ही अस्थायी घर हैं और ये लोग नदी किनारे होने वाली खेती-बाड़ी करते हैं| जब भी दिल्ली में बाढ़ का खतरा बढ़ता है, तब सबसे पहले इन लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाता है, लेकिन इस बार ये लोग अपना घर छोड़ने से मना कर रहे हैं| प्रशासन ने लोगों की सुरक्षा के लिए ख़ास व्यवस्था की है|

दिल्ली: खतरे के निशान से ऊपर पहुंची यमुना

Share.