महिलाएं खुद ही सुधारें अपनी स्थिति

0

‘टैलेंटेड इंडिया’ के स्पेशल शो ‘द टैलेंटेड इंडिया टॉक शो’ में इस हफ्ते महिलाओं के अधिकारों के लिए काम करने वाली राजस्थान की सामाजिक कार्यकर्ता राखी पालीवाल ने अपने विचार रखे| राखी पालीवाल के नाम देश की सबसे युवा उपसरपंच होने का रिकॉर्ड भी दर्ज है| वे महज 21 वर्ष की उम्र में उपसरपंच बन गई थीं, जिसके चलते उन्होंने अपने गांव में कई विकास और साक्षरता से सम्बंधित कार्य किये थे|

‘द टैलेंटेड इंडिया टॉक शो’ में राखी पालीवाल ने बताया कि समाज में बालिकाओं को आगे बढ़ने के लिए सभी को प्रयास करने की जरुरत है| उन्होंने कहा कि आज के दौर में ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं की दशा ठीक नहीं है| आज भी महिलाओं को कई तरह की बंदिशों का सामना करना पड़ता है| दहेज़ के लिए महिलाओं को प्रताड़ित किया जाता है| एक वकील होने के नाते ऐसी महिलाओं को न्याय दिलाने का कार्य वे कर रही हैं|

इसके अलावा उन्होंने कहा कि महिलाएं अपनी खुद की दशा को खुद ही बदल सकती हैं| उन्होंने कहा कि अगर महिलाएं ठान लें कि हमें सभी के साथ सामान व्यवहार करना है तो समाज में होने वाले छोटे-मोटे झगड़े ऐसे ही समाप्त हो जाएंगे|

उन्होंने अपने प्रदेश में सरकार के कामकाज को लेकर भी अपने विचार रखे| उन्होंने कहा कि राजस्थान  की मुख्यमंत्री एक महिला है, लेकिन फिर भी महिला मुख्यमंत्री ने महिलाओं के लिए कुछ ख़ास काम नहीं किया| वसुंधरा राजे सरकार से प्रदेश की जनता नाराज़ हैं|

उन्होंने युवाओं को आगे बढ़ने के बारे में सलाह देते हुए कहा कि युवा और बालिकाएं हमेशा अपनी रूचि के कार्य को प्राथमिकता दें| जब हम अपनी रूचि के कार्य को आगे बढ़ाते हैं तो इसमें हमें जरूर सफलता मिलती है|

Share.