website counter widget

CJI पर आरोप लगाने वाली महिला के साथ नाइंसाफी

0

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court of India) के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई (CJI Ranjan Gogoi) पर एक महिला ने शारीरिक प्रताड़ना का आरोप लगाया है। महिला के आरोपों के बाद न्याय व्यवस्था कटघरे में आकर खड़ी हो गई है। कई लोग न्यायपालिका पर उंगली उठा रहे हैं। अब कहा जा रहा है कि चीफ जस्टिस के खिलाफ आरोप लगाने वाली महिला के साथ जांच में धांधली की जा रही है। राज्यसभा सचिवालय में सीनियर असिस्टेंट लक्ष्मण सिंह नेगी महिला के बचाव ने आये और कहा कि महिला के आरोपों के बाद जांच में इन्साफ नहीं बरता जा रहा है। महिला के खिलाफ जांच उसकी गैरमौजूदगी में 24 घंटे में पूरी कर दी और उसे अपना पक्ष रखने का मौक़ा भी नहीं दिया गया।

पीएम मोदी के खिलाफ वाराणसी से चुनाव लड़ेंगी प्रियंका गाँधी!

Image result for CJI पर आरोप लगाने वाली महिला के

राज्यसभा सचिवालय में सीनियर असिस्टेंट लक्ष्मण सिंह नेगी ने आगे कहा, “आरोप लगाने वाली महिला का पति उसके कॉलेज के समय से दोस्त है और उसने उसकी मदद करने की इच्छा से इस मामले में बचाव करने का मन बनाया था। जिस समय मैंने महिला का बचाव का इरादा जताया तब मुझे मालूम नहीं था कि उसने सीजेआई के खिलाफ सेक्सुअल हैरेसमेंट की शिकायत की है। मैंने महिला के जरिये बचाव करने की रिक्वेस्ट दी थी। इस तरह की विभागीय जांच में कोई वकील, सरकारी कर्मचारी या रिटायर्ड अधिकारी में बचाव पक्ष का सहायक हो सकता है, लेकिन दुर्भाग्य से जांच अधिकारी ने मुझे इसमें मदद देने के लिए नहीं चुना। हमें इस बात की सूचना भी नहीं दी गई कि बचाव पक्ष का सहायक होने के उनके अनुरोध को क्यों ठुकरा दिया गया। ”

एनआईए कोर्ट ने खारिज की साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ याचिका

Image result for CJI पर आरोप लगाने वाली महिला के
नेगी ने महिला के बचाव में आगे कहा कि 17 दिसंबर को जब एक पक्षीय सुनवाई हो रही थी तब वह सुप्रीम कोर्ट में मौजूद थी और उसने कोर्ट को इसकी जानकारी दी थी, लेकिन सुनवाई के दौरान वह बेहोश हो गईं और सुप्रीम कोर्ट के अधिकारी उसे खुद आरएमएल अस्पताल ले गए। विडंबना ये कि जांच अधिकारी ने उसकी गैर मौजूदगी में एकपक्षीय सुनवाई की। सुप्रीम कोर्ट के उस अधिकारी से कभी पूछताछ नहीं हुई जिसके पास महिला सीटिंग चेंज का अनुरोध लेकर गई थी। महिला सुप्रीम कोर्ट इम्प्लॉयज वेलफेयर एसोसिएशन के प्रेसिडेंट बीए राव के पास अपनी सीट चेंज करने के लिए गई थी।
Image result for CJI पर आरोप लगाने वाली महिला के
महिला के खिलाफ दायर धोखाधड़ी केदिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में बुधवार को सुनवाई हुई।सुनवाई के दौरान कोर्ट ने महिला की जमानत रद करने के आवेदन पर सुनवाई टाल दी है। अब इस मामले में अगली सुनवाई तीन मई को होगी।

गेहलोत का पीएम पर ट्वीट वार

रहें हर खबर से अपडेट, ‘टैलेंटेड इंडिया’ के साथ| आपको यहां मिलेंगी सभी विषयों की खबरें, सबसे पहले| अपने मोबाइल पर खबरें पाने के लिए आज ही डाउनलोड करें Download Hindi News App और रहें अपडेट| ‘टैलेंटेड इंडिया’ की ख़बरों को फेसबुक पर पाने के लिए पेज लाइक करें – Talented India News

ट्रेंडिंग न्यूज़
Share.